निर्धारित समय सीमा के अंदर पूर्ण करें सभी कार्य : उप विकास आयुक्त

उप विकास आयुक्त की अध्यक्षता में सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों एवं महिला पर्यवेक्षिकाओं के साथ विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु समीक्षात्मक बैठक संपन्न

गुमलाः  उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ की अध्यक्षता में सभी बाल विकास परियोजना पदाधिकारियों एवं महिला पर्यवेक्षिकाओं के साथ विभागीय योजनाओं के क्रियान्वयन हेतु समीक्षात्मक बैठक का आयोजन विकास भवन के सभागार में किया गया।

बैठक में उप विकास आयुक्त ने पोषण ट्रैकर ऐप पर की जाने वाली प्रविष्टियों की समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में उन्होंने ऐप पर सभी लाभार्थियों की प्रविष्टियां 30 जून तक सुनिश्चित करने का निर्देश दिया।

उप विकास आयुक्त ने मुख्यमंत्री कन्यादान योजना की समीक्षा की। समीक्षा के क्रम में पाया गया कि वित्तीय वर्ष 2021-22 में गुमला जिलांतर्गत 363 का लक्ष्य निर्धारित है। जिसके विरूद्ध अबतक 112 आवेदन प्राप्त किए गए हैं। इसपर उप विकास आयुक्त ने अविलंब अधिक से अधिक आवेदन प्राप्त करने हेतु कार्ययोजना बनाकर कार्य करने का निर्देश दिया।

बैठक में उप विकास आयुक्त ने जिले के खनन प्रभावित क्षेत्रों में अवस्थित कुल 93 आंगनबाड़ी केंद्रों के निर्माण एवं सुसज्जीकरण डी.एम.एफ.टी मद से पूर्ण करने का निर्देश दिया। साथ ही उन्होंने उक्त केंद्रों की वर्तमान वास्तविक स्थिति से संबंधित प्रतिवेदन अगले दो दिनों के अंदर समर्पित करने का निर्देश दिया। इसके साथ ही उन्होंने सभी जर्जर भवनों की सूची फोटोग्राफ्स सहित उपलब्ध कराने का भी निर्देश दिया।

मुख्यमंत्री सुकन्या योजना की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि जिलांतर्गत उक्त योजना हेतु 8045 का लक्ष्य निर्धारित है। जिसके विरूद्ध 898 आवेदन प्राप्त किए गए हैं। इसपर उप विकास आयुक्त ने निर्धारित लक्ष्य के अनुरूप अधिक से अधिक आवेदन प्राप्त करने का निर्देश दिया।

प्रधानमंत्री मातृ वंदना योजना की समीक्षा के क्रम में पाया गया कि उक्त योजनांतर्गत प्रथम गर्भवती महिला को 5000 रूपये तक का लाभ तीन किस्तों में किए जाने के प्रावधान है। इसपर उप विकास आयुक्त ने विभागीय निर्दशानुसार प्रखंड चिकित्सा पदाधिकारी से प्रथम गर्भवती महिलाओं की सूची ग्रामवार प्राप्त करते हुए सभी लाभुकों को योजना से लाभान्वित करने का निर्देश दिया।

उपस्थिति
बैठक में उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा, बाल विकास परियोजना पदाधिकारी गुमला सदर/ पालकोट/ सिसई/ कामडारा/ घाघरा/ बिशुनपुर/ चैनपुर सहित महिला पर्यवेक्षिकाएं व अन्य उपस्थित थे।