धर्मांतरण एक सामाजिक जहर :कृष्णा भूइयां

डपोक पंचायत में विश्व हिंदू परिषद का समिति गठन, अर्जुन रविदास बने संरक्षक, संतोष यादव अध्यक्ष

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : प्रखंड अंतर्गत विभिन्न ग्रामों में चल रहे धर्मांतरण के अवैध खेल पर अंकुश लगाने के लिए विश्व हिंदू परिषद के बैनर तले डपोक पंचायत के खुर्द जवार गांव में एक विशाल बैठक आयोजित की गई। जिसकी अध्यक्षता विश्व हिंदू परिषद जिला सह मंत्री गुरुदेव गुप्ता एवं संचालन बजरंग दल संयोजक प्रदीप चंद्रवंशी ने किया। इस कार्यक्रम के मुख्य वक्ता के रूप में कट्टर सनातनी कृष्णा भूइयां उपस्थित हुए। कार्यक्रम को संबोधित करते हुए मुख्य वक्ता कृष्णा भुंइयाँ ने कहा कि भारत एक सनातनी राष्ट्र है और यहां रहने वाले लोग सनातन प्रेमी हैं। ऐसे सनातनी राष्ट्र में लोभ लालच भय का बहाना बनाकर अवैध रूप से धर्मांतरण किया जाना सामाजिक जहर से ज्यादा खतरनाक है अगर समाज में पोटेशियम साइनाइड का नाम दिया जाए तो भी कम नहीं है। हम सनातन हैं और तलवार के बल पर सलवार नहीं पहनेंगे। हमें अपने विचारों से ऐसे पाखंडीयों को समूल उखाड़ फेंकना है। इसके लिए हमें सामाजिक रुप से संगठित होने और भेदभाव को मिटाकर एक सूत्र में आंदोलन करने की आवश्यकता है। मूल मंत्र समानता का होना चाहिए। हम आपस में दूध और पानी की तरह मिलकर समाज को समृद्ध बनाएं और ऐसे पाखंडीयों को दूर भगाएं। पूरी दुनिया में सनातन ही एक ऐसा धर्म है जो प्रकृति से सीधे जुड़ा है। ऐसे पाखंडीयों को अपने समाज के खंडित करने के प्रयास से विफल करना है और हम बढ़-चढ़कर इस कार्य में हिस्सा लें और धर्म की रक्षा करें। जो धर्म की रक्षा करता है धर्म उसकी निश्चित ही रक्षा करता है, इसमें कोई संदेह नहीं है। हमें अपने क्षेत्रों में रामायण गीता और महाभारत जैसे ग्रंथों का पठन-पाठन बढ़ाना चाहिए। इससे क्षेत्र में धार्मिक क्रांति लाने की आवश्यकता है। लोगों के बदले हुए भाव और धर्म के प्रति घटता प्यार ही धर्मांतरण का मूल कारण है इसलिए मैं सरकार से यह मांग करता हूं कि हर विद्यालय में रामायण और गीता का पाठ अनिवार्य हो। उन्होंने कहा कि ऐसा करने से बच्चों में संस्कार और अनुशासन आएगा। साथ ही साथ धार्मिक आस्था सुदृढ़ होगी। मौके पर मौजूद जिला सह मंत्री गुरुदेव गुप्ता एवं रंजीत चंद्रवंशी ने संयुक्त रूप से कहा कि हमें विभिन्न प्रकार के जातिगत भाव से ऊपर उठकर सामाजिक एकता का परिचय पेश करनी है और सनातन धर्म की रक्षा करनी है। इस दौरान राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ रसोईया धमना खंड के मुख्य शिक्षक अरविंद कुमार ने बच्चों में संस्कार शिक्षा एवं शाखा से जोड़कर उनमें संस्कार भरने की बात कही। इस दौरान विश्व हिंदू परिषद की समिति विस्तार योजना के तहत डपोक पंचायत की समिति गठित की गई जिसमें सर्वसम्मति से संतोष यादव अध्यक्ष, सीताराम चंद्रवंशी उपाध्यक्ष, अशोक चंद्रवंशी, मंत्री द्वारिका चंद्रवंशी सह मंत्री, दिनेश चंद्रवंशी बजरंग दल संयोजक रोहित चंद्रवंशी, संजीत कुमार सह संयोजक, अनिल चंद्रवंशी धर्म प्रसार प्रमुख, पांचू राम सत्संग प्रमुख, मनोज यादव गौरक्षा प्रमुख, किशोर चंद्रवंशी मिलन प्रमुख, अरुण चंद्रवंशी सामाजिक समरसता प्रमुख, मनी यादव सुरक्षा प्रमुख, झरी चंद्रवंशी व्यवस्था प्रमुख संरक्षक युगल राम, अर्जुन रविदास, उमेश यादव बनाए गए। इस कार्यक्रम में मिथिलेश कुमार श्रीवास्तव, कृष्णा कुमार भूइयां, युगल चंद्रवंशी, अरुण चंद्रवंशी, संतोष चंद्रवंशी, नारायण यादव, लालधारी चंद्रवंशी, नकुल सिंह, सीताराम चंद्रवंशी, पंकज कुमार सिंह, भुवनेश्वर चंद्रवंशी, जोभी चंद्रवंशी, पांचू चंद्रवंशी, नारायण चंद्रवंशी, भीम कुमार यादव, प्रवीण यादव, सोनू चंद्रवंशी, मिथिलेश यादव, अरुण कुमार, देवेंद्र यादव, संतोष यादव, लालमणि यादव, नारायण यादव सहित अनेकों कार्यकर्ता उपस्थित थे।