आपदा को अवसर में बदलने वालों के लिए इनसे लेनी चाहिए सीख, मात्र 20 रूपये में बना डाला यह मशीन

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो: आज पूरा देश कोरोना महामारी से लड़ रहा है, लोग इस आपदा को अवसर बनाकर अपनी जेब भरने में लगे हुए है, लेकिन बोकारो के एक शख्स ने अपने हुनर के बदौलत मात्र 20 रुपये के खर्च में वेपोराइज्रर (वाष्प लेने वाली मशीन ) बनाकर एक उदाहरण पेश किया है। घर मे पड़े बेकार सामानों को मिलाकर जोगाड़तन्त्र के सहारे अमरनाथ सिंह ने ये मशीन बना डाली है। कहते है आवयश्कता अविष्कार की जननी है, वही हुआ अमरनाथ के साथ भी उन्हें अपने किसी मित्र के लिये वेपोराइज्रर मशीन खरीदनी थी तो उन्होंने बाजार की ओर रुख किया तो कई दुकानों में भटकने के बाद एक दुकान में वाष्प लेने वाली मशीन मिली भी तो मनमानी कीमत पर, बस यही अमरनाथ ने ठान ली कि वो खुद ये मशीन बनाकर कोरोना से लड़ने में लोगो की मदद करेंगे। पेशे से ठेकेदार अमरनाथ ने महज़ दो दिनों में ही जुगाड तन्त्र के सहारे दो प्लास्टिक का डिब्बा एक पी वी सी पाइप और बिजली के तार की मदद से इस यंत्र का निर्माण कर दिया। अबतक 200 लोगो मे यह यंत्र निशुल्क बाटकर लोगो की मदद भी कर चुके है। उनका कहना है कि जो सक्षम है वो मात्र 20 रुपये में उनसे यह मशीन ले सकते है और जो सक्षम नही है उनके लिए यह बिल्कुल मुफ्त उपलब्ध है। अमरनाथ के इस प्रयास की चारो ओर सराहना भी होने लगी है, जो इस आपदा काल मे अपने प्रयास से लोगो को बीमारी से लड़ने में सहायता प्रदान कर रहे है।