हेल्पिंग हैंड ने दिया मानवता का परिचय

रामगोपाल जेना
चक्रधरपुर: मानव सेवा को समर्पित संस्था हेल्पिंग हैंड,चक्रधरपुर शाखा ने मानवता का परिचय देते हुए सोशल मीडिया में वायरल बांग्लाटांड के मो. शमीम नामक विकलांग व्यक्ति के लिए ट्राई साइकिल जो चलने की स्थिति में नहीं थी,जिसके कारण उनको दैनिक जीवन में काफी परेशानियों का सामना करना पड़ रहा था। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए हेल्पिंग हैंड ने ट्राईसाइकिल की मरम्मत करवा कर पुनः साबित कर दिया कि सुख, समृद्धि एवं शांति से परिपूर्ण जीवन के लिए सच्चरित्र, मददगार तथा सदाचारी होना पहली शर्त है, जो उत्कृष्ट विचारों के बिना संभव नहीं है। हमें यह दुर्लभ मानव जीवन किसी भी कीमत पर निरर्थक और उद्देश्यहीन नहीं जाने देना चाहिए। लोकमंगल की कामना ही हमारे जीवन का उद्देश्य होना चाहिए। केवल अपने सुख की चाह हमें मानव होने के अर्थ से पृथक करती है। मानव होने के नाते जब तक दूसरे के दु:ख-दर्द में साथ नहीं निभाएंगे तब तक इस जीवन की सार्थकता सिद्ध नहीं होगी। इस कार्य में मुख्य रूप से हेल्पिंग हैंड के जय कुमार, अमित मुखी, शुभम दीवान, सुभाशिश दत्ता, संतोष मुखी, पॉल गोडफरे, सुब्रतो मजूमदार का महत्वपूर्ण योदगान रहा। वायरल वीडियो में राष्ट्रीय भ्रष्टाचार नियंत्रण एवं जन कल्याण संगठन के सक्रिय सदस्य बसंत महतो एवं उमेश मोदक ने समर्थ लोगों,जनप्रतिनिधि,प्रशासनिक अधिकारियों,समाजसेवी आदि से मदद की गुहार लगाई थी। अंततः हेल्पिंग चक्रधरपुर शाखा ने मदद के लिए हाथ बढ़ाया एवं उन्होंने स्पष्ट किया है कि आगे किसी भी प्रकार की परेशानी हो हेल्पिंग हैंड को याद करें।