भविष्य में होगा ऐतिहासिक कार्यक्रम: बागुन सोय

अंतराष्टीय आदिवासी दिवस कार्यक्रम की हुई समीक्षा बैठक

रामगोपाल जेना

चक्रधरपूर: मानकी मुंडा संघ कोल्हान पोड़ाहाट, आदिवासी हो समाज महासभा अनुमंडल एवं प्रखंड समिति चक्रधरपुर और भगवान बिरसा मुंडा कला संस्कृति केंद्र झरझरा के द्वारा आयोजित अंतर्राष्ट्रीय आदिवासी दिवस कार्यक्रम के संरक्षक स्थानीय विधायक  सुखराम उरांव, सलाहकार मानकी कृष्णा सामाड़, मानकी सिद्देश्वर सामाड़, मानकी रामेस्वर बोदरा, मानकी राजू जमुदा, अध्यक्ष बाहराम हेमब्रोम, अध्यक्ष दोराई हसदा आदि थे.उक्त कार्यक्रम का सफल आयोजन होने के बाद दिनांक 15 अगस्त 2021 दिन रविवार को नया झरझरा बाजार टांड में आयोजन समिति के अध्यक्ष  बागुन सोय की। अध्यक्षता में एक बैठक संपन्न हुई | इस बैठक में आयोजन समिति के सभी पदाधिकारी एवं सभी सामाजिक संगठन  मानकी मुंडा संघ कोल्हान पोड़ाहाट, आदिवासी हो समाज महासभा एवं भगवान बिरसा मुंडा कला संस्कृति केंद्र झरझरा के   पदाधिकारी उपस्थित थे. अध्यक्ष बागुन सोय ने कहा  अगला कार्यक्रम सफलतापूर्वक आयोजन करने का निर्णय लिया. तीरथ जमुदा  चक्रधरपुर प्रखंड के अति नक्सल प्रभावित क्षेत्र एवं सरकार के द्वारा घोषित रेड जोन पंचायत के होयोहातु ग्रामीण क्षेत्र में होने के बावजूद सफलतापूर्वक आयोजन हेतु वक्ताओं को आमंत्रित कर ग्रामीणों को आदिवासी दिवस कि जानकारी सहित समाज में हो रहे अन्य जानकारियाँ दिया गया. इसके लिए आयोजन समिति को बधाई एवं धन्यवाद दिया. साथ ही कार्यक्रम के सफल आयोजन के लिए झंझरा में एक कमरा लिया गया था. मकान के परिवार वालों में आयोजन समिति को 24 घंटा साथ देते हुए सभी सुविधा उपलब्ध कराया इसके लिए आयोजन समिति ने जगमोहन तांतीबनमली तांतीसुमित्रा तांतीसुस्मिता तांती फूलमानी तांतीपरिवार के पांच व्यक्तियों को साड़ी एवं तौलिया देकर सम्मानित किया.इस बैठक में मथुरा गागराई कोषाध्यक्ष  मुचिया सामाड़    सचिव श्रीराम सामाड़ उपाध्यक्ष सिद्देश्वर सामाड़ सलाहकार कृष्णा सामाड़  सलाहकार तीरथ जमुदा  समाजसेवी बालेन्द्र तियु मुंडा जगन सिंह हसदा मुखिया होयोहातु पंचायत.पोंडेराम सिजुई जिलिंगबुरु जगरनाथ मुंडारी सोनमरा  गोबिंद चन्द्र हसदा   लांझी मनोज सिंह हसदा   चितपील बबलू लकड़ा  सेताहाका 14 पोंडेराम सिजुई  जिलिंगबुरु भारत सिंह गगराई दादकड़ा रविंद्र मुंडारी सोनामरा कैरा सिजुई   पैदमपुर लखन गागराई दड़कदा सानिका तांती झरझरा. कैरा गुंदुवा पैदमपुर शिवराम गागराई दड़कदा दोराई हसदा होयोहातु जगमोहन तांती मौजूद थे।