बिहार पंचायत चुनाव को लेकर अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट पर बढ़ी सख्ती

ड्रंक एंड ड्राइविंग के खिलाफ ब्रीथ एनालाइजर से की गई जांच

हरिहरगंज से प्रसिद्ध कुमार अम्बेडकर की रिपोर्ट

हरिहरगंज (पलामू)। शराब पीकर वाहन चलाने वाले अब कोरोना महामारी की आड़ लेकर बच नहीं सकेंगे। बिहार में पंचायत चुनाव को लेकर हरिहरगंज थाना के पास बने अंतर्राज्यीय चेक पोस्ट पर सख्ती बढ़ा दी गई है।शुक्रवार को चेकिंग अभियान के दौरान ड्रंक एंड ड्राइविंग के खिलाफ ब्रीथ एनालाइजर से भी टेस्ट शुरू कर दिया गया है। चेक पोस्ट से होकर गुजरने वाले सभी छोटे बड़े वाहनों को जांच की जा रही है। साथ ही ड्रंक एंड ड्राइविंग के खिलाफ ब्रीथ एनालाइजर से चालकों को जांच की जा रही है कि कहीं चालक शराब पीकर गाड़ी तो नहीं चला रहे हैं।
बता दें कि हरिहरगंज थाना बिहार राज्य की सीमा से सटा हुआ है। बिहार में शराबबंदी होने के कारण अवैध शराब का कारोबार करने वाले लोग बिहार में शराब की खेप भेजने का प्रयास करते हैं।इस संबंध में पुनि सह थाना प्रभारी सुदामा कुमार दास ने बताया कि बिहार में पंचायत चुनाव को देखते हुए वरीय अधिकारी के निर्देश पर ब्रेथ एनालाइजर टेस्ट किया जा रहा है। साथ ही सभी वाहनों को गहनता पुर्वक जांच की जा रही है। हलाकि इस दौरान एक भी चालक शराब पीकर वाहन चलाते नहीं पकड़े गए। उन्होंने बताया कि बिहार शराबबंदी के कारण अवैध शराब के कारोबार करने वाले लोग बिहार में शराब भेजने का प्रयास करते हैं। जिसके कारण सख्ती बरती जा रही है और अवैध शराब के कारोबार करने वाले लोगों को चिन्हित भी किया जा रहा है ताकि उन पर कार्रवाई की जा सके।चेकिंग अभियान के दौरान मौके पर पुनि सह थाना प्रभारी सुदामा कुमार दास, सुमित कुमार दास के अलावे पुलिस बल शामिल थे।