वैष्णवी लेबर एंड वेलफेयर एसोसिएशन का विरोध

रामगढ़। शनिवार को रजरप्पा पुलिस के द्वारा रामगढ़ के कैथा के निकट बुलाकर वैष्णवी कोल ब्लाक सहकारी समिति के रामगढ़ जिला अध्यक्ष मोहम्मद आजम खान वैष्णवी लेबर एंड वेलफेयर एसोसिएशन के चितरपुर प्रखंड अध्यक्ष प्रेमचंद सोरेन के ऊपर रजरप्पा सी सी एल प्रबंधन द्वारा लगाए गए झूठा आरोप के मामले में गिरफ्तार कर जेल भेजे जाने से नाराज वैष्णवी लेबर ऐंड वेलफेयर एसोसिएशन के सैकड़ों ग्रामीण सोमवार को रामगढ़ उप मंडल कारा जेल में सहकारी समिति के जिला अध्यक्ष तथा प्रखंड अध्यक्ष से मुलाकात करने पहुंचे। ग्रामीणों ने ही सी सी एल रजरप्पा प्रबंधन और रजरप्पा पुलिस के खिलाफ नारे बाजी कर विरोध प्रकट किया। समिति के लोगों ने सीसीएल कार्यालय, रजरप्पा थाना का घेराव करने का निर्णय लिया है।साथी यह भी मीडिया को बताया कि प्रबंधन प्रशासन तथा एक राजनेता के मिलीभगत से सहकारी समिति के सदस्यों पदाधिकारियों को प्रताड़ित करने झूठा केस में फंसाने और रोजगार से वंचित रखने का काम रजरप्पा में किया जा रहा है। जिसका विरोध करने के लिए समिति के लोग बहुत ही जल्द रजरप्पा में आंदोलन के अलावे सीसीएल सीएमडी और मुख्यमंत्री आवास का दौरे भी कर उच्च पदाधिकारियों को प्रबंधन प्रशासन के ग्रामीण विरोधी कार्रवाई एवं समस्याओं से अवगत कराएंगे। सभी फर्जी केस जो प्रबंधन प्रशासन के द्वारा मनगढ़ंत बनाया गया है। उसकी उच्च स्तरीय/न्यायिक जांच कराई जाएगी। दोषी अधिकारियों के खिलाफ आंदोलन के माध्यम से पूरे मामले को देश के गृहमंत्री केंद्रीय सहकारिता मंत्री भारत सरकार अमित शाह को भी रजरप्पा सहकारी समिति सदस्यों/पदाधिकारियों के ऊपर हो रहे अत्याचार पर कार्रवाई के लिए संज्ञान में दी जाएगी ।