जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति “दिशा” की वर्चुअल बैठक संपन्न

विभिन्न योजनाओं के क्रियान्वयन पर हुई चर्चा

गढ़वा: जिला विकास समन्वय एवं निगरानी समिति “दिशा” की वर्चुअल बैठक सांसद वी डी राम की अध्यक्षता में आयोजित की गई । बैठक समाहरणालय के सभागार में वीडियो कांफ्रेंसिंग के माध्यम से संपन्न हुई, जिसमें समाहरणालय सभागार से भवनाथपुर विधायक भानु प्रताप शाही, उपायुक्त राजेश कुमार पाठक, पुलिस अधीक्षक श्रीकांत एस खोटरे, उप विकास आयुक्त सत्येंद्र नारायण उपाध्याय, प्रतिनिधि विधायक, विश्रामपुर विधानसभा क्षेत्र समेत जिले के अन्य वरीय अधिकारी वर्चुअल माध्यम से जुड़े थे।

सांसद ने सदस्यो की मांग पर कहा कि जिले के सभी जरूरतमंद किसानों को केसीसी का लाभ देना सुनिश्चित करें। उन्होंने केसीसी का लाभ देने में आने वाली समस्याओं का निराकरण करने का निर्देश जिला अग्रणी बैंक प्रबंधक को दिया। उन्होंने कहा कि केसीसी लोन उपलब्ध कराने संबंधी व्यवस्था सुदृण करें ताकि किसानों को समस्या का सामना ना करना पड़े। मौके पर सदस्यों की मांग के अनुरूप जिले के भंडरिया व खरौंधी प्रखंड में एटीएम खुलवाने का प्रस्ताव भी दिया गया।

बैठक में स्वास्थ्य विभाग की समीक्षा के क्रम में सांसद ने सभी अनुमंडलीय अस्पतालों व सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र को सुदृण करने का निर्देश दिया ताकि लोगों को आवश्यक स्वास्थ्य सुविधाएं अपने क्षेत्र अंतर्गत उपलब्ध हो सके तथा अति आवश्यक पड़ने पर ही उन्हे सदर अस्पताल की ओर रुख करना पड़े। इसके अलावा उन्होंने सभी अस्पतालों में बेड, ऑक्सीजन, अल्ट्रासाउंड मशीन समेत अन्य इन्फ्राट्रक्चरल डेवलपमेंट के साथ-साथ चिकित्सकों की उपलब्धता सुनिश्चित करने का निर्देश दिया। साथ ही भ्रूण हत्या पर रोक लगाने संबंधी कार्रवाई करने की बात भी कही। उन्होंने कहा कि इंफ्रास्ट्रक्चर को डेवेलप करते हुए जिले वासियों को हर स्तर पर स्वास्थ्य सुविधाएं मुहैया कराएं। मौके पर माननीय विधायक भानु प्रताप शाही ने सभी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्रों की स्थिति में सुधार करने के की बात कही। सांसद ने जिले में अवस्थित सभी वेंटिलेटर को चालू अवस्था में रखते हुए उसे ऑपरेट करने के लिए ट्रेन्ड डॉक्टर रखने का निर्देश दिया। अवैध क्लीनिक की जांच के क्रम में माननीय सांसद ने स्वास्थ्य संबंधी गाइडलाइन को पूरा करने वाले क्लीनिक के ही संचालन का निर्देश दिया। वहीं विद्युत विभाग की समीक्षा के क्रम में माननीय सांसद ने कार्यपालक अभियंता विद्युत प्रमंडल को किस प्रखंड में कौन सा टोला/गांव विद्युतीकरण से अछूता है इसकी सटीक सूची उपलब्ध कराने का निर्देश दिया तथा उन्हें उसी के अनुरूप विद्युतीकरण करने का की बात कही। मौके पर माननीय विधायक भानु प्रताप शाही ने भी टाटा पावर को कुल कितना विद्युतीकरण करने का कार्य दिया गया है उन टोलो/ गांव की विस्तृत सूची समिति के सदस्यों को उपलब्ध कराने का की बात कहीं।

बैठक में पेयजल एवं स्वच्छता प्रमंडल की समीक्षा के दौरान सांसद ने निर्धारित लक्ष्य का वित्तीय वर्ष के आधार पर रोडमैप तैयार करते हुए जिले के सभी घरों को शुद्ध पेयजल से आच्छादित करने की बात कही। उन्होंने कहा कि भारत सरकार अथवा राज्य सरकार की जो भी योजनाएं हैं उसका एक नियत प्रारूप तैयार करते हुए कार्य करें ताकि जिले के हर जरूरतमंद तक उसका लाभ पहुंच सके। मौके पर माननीय विधायक भवनाथपुर श्री भानु प्रताप शाही ने सभी विभागों के पदाधिकारियों को संबोधित करते हुए कहा कि जिला अंतर्गत प्रारंभ होने वाली नई योजनाओं से संबंधित सूचना सभी विधायकों व सांसद महोदय को उपलब्ध कराया जाए। बैठक में जरूरतमंद लाभुकों को ग्रीन राशन कार्ड मुहैया कराने का निर्देश भी दिया गया तथा ऐसे लोग जो गलत तरीके से राशन कार्ड का लाभ ले रहे हैं उसकी छटनी करने संबंधी निर्देश जिला आपूर्ति पदाधिकारी को दिया गया। धान क्रय में पारदर्शिता रखने तथा किसानों को धान क्रय की राशि का भुगतान करने के संबंध में माननीय सांसद ने सख्त निर्देश दिए। बैठक में जिले वासियों की सुविधा के मद्देनजर राइस मिल खोलने के प्रस्ताव पर भी चर्चा की गई। वहीं माननीय सांसद ने परियोजना निदेशक एनएचएआई को एनएच- 75 के गड्ढों की मरम्मती के संदर्भ में निर्देशित किया। इस पर परियोजना निदेशक एनएचएआई ने जुलाई के प्रथम सप्ताह तक गड्ढों के मरम्मती का आश्वासन दिया।