चोरी की 6 मोटरसाइकिल बरामद, चार गिरफ्तार

– गोड्डा पुलिस ने बाइक चोर गिरोह का किया उद्भेदन

गोड्डा से अभय पलिवार की रिपोर्ट
गोड्डा: बाइक चोरी की घटनाओं पर अंकुश लगाने, चोरी हुई बाइक बरामद करने एवं अपराधियों को गिरफ्तार करने के प्रयास में लगी पुलिस को कामयाबी मिल गई है। पुलिस अधीक्षक वाईएस रमेश के कुशल मार्गदर्शन में पुलिस टीम ने बाइक चोर गिरोह के चार अपराधियों को धर दबोचने में कामयाबी हासिल की है। गिरफ्तार अपराधियों के पास से चोरी की 6 बाइक भी बरामद की गई है।
गिरफ्तार बाइक चोर गिरोह का तीन सदस्य गोड्डा जिला का एवं एक सीमावर्ती पाकुड़ जिला अंतर्गत लिट़्टीपाड़ा थाना क्षेत्र का रहने वाला है। इस गिरोह का अंतरजिला नेटवर्क रहा है।
मालूम हो कि बीते कुछ माह से गोड्डा नगर थाना क्षेत्र समेत जिले के अन्य थाना क्षेत्रों से बाइक चोरी की घटनाओं में इजाफा हो गया है। जिला मुख्यालय में अनेक सार्वजनिक स्थानों से बाइक चोरी की घटना हुई है। बाइक चोर गिरोह पुलिस के लिए सिरदर्द बने हुए हैं। बाइक चोरी की घटनाओं को चुनौती के रूप में लेते हुए पुलिस अधीक्षक श्री रमेश द्वारा घटनाओं की रोकथाम, संलिप्त अपराधियों की गिरफ्तारी एवं चोरी हुई बाइक की बरामदगी के लिए गोड्डा के अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी आनंद मोहन सिंह के नेतृत्व में एक पुलिस टीम का गठन किया गया है। टीम द्वारा तकनीकी शाखा एवं अन्य माध्यमों से सूचना संकलन कर पुलिस ने मुफस्सिल थाना क्षेत्र के नुनबट्टा गांव के वासी मोटरसाइकिल चोरी के तीन संदिग्ध आरोपियों रंजन कुमार, पिता संतोषी महतो, गौतम कुमार, पिता मोहन साह एवं दीपक महतो, पिता शिव शंकर महतो को पकड़कर पूछताछ किया गया। पूछताछ के दौरान तीनों ने कबूल किया कि वे लोग मोटरसाइकिल चोरी करते हैं। तीनों ने पुलिसिया पूछताछ के दौरान गोड्डा नगर थाना कांड संख्या 270/ 2021, 313/ 2021, 314/ 2021 एवं अन्य कांडों में चोरी की घटना को अंजाम देने की बात स्वीकार किया। तीनों ने स्वीकार किया कि बाइक चोरी कर वे सीमावर्ती लिट़्टीपाड़ा थाना क्षेत्र के पतरापाड़ा गांव निवासी हेमलाल कुमार साह को बेच देते थे।
पकड़ाए गए तीनों अभियुक्तों की निशानदेही पर सीमावर्ती पाकुड़ जिला अंतर्गत लिट़्टीपाड़ा थाना क्षेत्र के पतरापाड़ा गांव में हेमलाल कुमार साह, पिता आनंद साह के घर पर छापामारी कर उसके घर से 6 मोटरसाइकिल बरामद किया गया। बरामद 6 बाइक में से तीन पर नंबर प्लेट जेएच 01 बीपी 9528, जेएच 04 डी 2317 एवं जेएच 17 0124 अंकित है, जबकि तीन बिना नंबर का है। बिना नंबर वाले बाइक में एक होंडा साइन, एक हीरो एचएफ डीलक्स एवं एक बजाज प्लैटिना शामिल है।
पूछताछ के क्रम में हेमलाल कुमार साह ने स्वीकार किया कि वह चोरी का मोटरसाइकिल खरीद बिक्री का काम करता है।

बाइक में लगाएं डबल लॉक: एसपी

बुधवार को अपने कार्यालय कक्ष में आयोजित पत्रकार वार्ता में एसपी श्री रमेश ने इस मामले का खुलासा किया। बताया कि गिरफ्तार चारों अपराधी 18 -19 साल के हैं। तड़क-भड़क भरी जीवन शैली जीने की लालसा से अपराध की दुनिया में उतर गए हैं। उच्च स्तर की जिंदगी जीने की चाहत से ये अपराधी बाइक चोरी के धंधे में शामिल हो गए हैं। अपराधियों ने स्वीकार किया है कि स्प्लेंडर गाड़ी का लॉक वे लोग आसानी से तोड़ डालते हैं। एसपी ने आम लोगों से अपील की है कि बाइक में डबल लॉक लगाकर ही पार्किंग करें।

कौन-कौन थे पुलिस टीम में शामिल

चोरी की बाइक बरामद करने एवं अपराधियों को गिरफ्तार करने के लिए पुलिस अधीक्षक द्वारा एसडीपीओ आनंद मोहन सिंह की अगुवाई में गठित टीम में पुलिस निरीक्षक सह गोड्डा नगर थाना प्रभारी मुकेश कुमार पांडेय, नगर थाना के पुलिस अवर निरीक्षक राजीव रंजन कुमार, विनोद कुमार साह, मिथुन स्वर्णकार, रौतारा टीओपी के प्रभारी महेंद्र कुमार, नगर थाना के एएसआई अजय कुमार रवानी तथा तकनीकी शाखा की कर्मी, थाना रिजर्व गार्ड एवं टाइगर मोबाइल के जवान शामिल थे।