अभाविप ने धनबाद में छात्राओं पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में मुख्यमंत्री का पुतला फूंका

धनबाद एसडीएम को निलंबित करने की मांग की
चतरा। शुक्रवार को धनबाद में छात्राओं पर पुलिस द्वारा किए गए लाठीचार्ज के विरोध में अखिल भारतीय विद्यार्थी परिषद के कार्यकर्ताओं द्वारा केसरी चौक पर मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन का पुतला दहन किया गया। इस दौरान सरकार के खिलाफ में जमकर नारेबाजी की गई। आंदोलन का नेतृत्व कर रहे जिला संयोजक रोहित कुमार पांडेय ने कहा कि धनबाद में बारहवीं के अनुतीर्ण छात्र शांतिपूर्ण अपनी मांगों को लेकर उपायुक्त कार्यालय में मंत्री बन्ना गुप्ता से मिलने पहुंचे थे, उसी दौरान छात्रों पर बेरहमी से लाठियां बरसाई गईं। एसडीएम सुरेद्र कुमार खुद उछल-उछल कर लाठी चलाने के साथ गाली भी दे रहे थे। मंत्री की मौजूदगी छात्रों की बेरहमी से पिटाई वर्तमान सरकार की संकुचित मानसिकता और बेटियों के प्रति सरकार की सोच का पता चलता है। रितेश कुमार राणा ने कहा कि हेमन्त सरकार छात्रों के अधिकार की लडाई को लाठी के बल पर निरंतर दबा रही है। अभाविप ने सरकार से घटना के दोषी एसडीएम एवं पुलिस पदाधिकारियों को निलंबित करने की मांग करते हुए कहा कि मंागे पुरी नही हुई तो परिषद चरणबद्ध आंदोलन के लिए बाध्य होगी। कार्यक्रम में आनंद सुमन, बैजनाथ यदुवंशी, मुन्ना यदुवंशी अभिषेक कुमार, गोपाल उत्तम  कुमार, अंकित केसरी, प्रदीप कुमार, साहिल कुमार, अभिषेक कुमार सहित दर्जनों कार्यकर्ता शामिल थे।