लाठीचार्ज के विरोध में एबीवीपी का विरोध प्रदर्शन

खूंटी:  धनबाद में छात्राओं पर हुए लाठीचार्ज के विरोध में एबीवीपी ने बिरसा कॉलेज कैंपस में विरोध प्रदर्शन किया। विरोध प्रदर्शन की जानकारी मिलते ही सुबह से ही पूरे कॉलेज को पुलिस ने छावनी में तब्दील कर दिया था। सीओ के साथ थाना प्रभारी सुबह से ही दल बल के साथ कॉलेज कैंपस में डटे हुए थे।
एबीवीपी के कार्यकर्ताओं ने झारखंड सरकार और जैक प्रशासन के खिलाफ जमकर नारेबाजी की। उन्होंने धनबाद एसडीएम सुरेंद्र कुमार को बर्खास्त करने की मांग भी की।
उनका कहना था कि इस सरकार में छात्र अपनी मांग रखते हैं तो बदले में उन्हें लाठियां खाना पड़ता है। सरकार का ये छात्र विरोधी रवैया नहीं चलेगा।नारे लगाते हुए एबीवीपी के कार्यकर्ता हेमंत सोरेन का पुतला जलाने वाले थे जिसे पुलिसबल द्वारा रोकने का प्रयास किया गया, इस बीच छोटी सी झड़प जैसी स्थिति भी आ गई।पुलिस के रवैये से नाराज़ छात्रों ने खूंटी प्रशासन के खिलाफ भी जमकर नारेबाजी की।ज्ञात हो कि जैक की बारहवीं की रिजल्ट में हजारों छात्रों को फेल कर दिया गया था जिसका विरोध छात्र हर जिले में कर रहे हैं।मौके पर एबीवीपी के प्रदेश कार्यकारिणी सदस्य प्रदीप बड़ाइक ने कहा कि छात्राओं पर लाठीचार्ज करना अनुचित था। छात्रों के कैरियर के साथ खिलवाड़ एबीवीपी बर्दाश्त नहीं करेगी। हमलोग छात्र हित में हमेशा लड़ते रहेंगे। विरोध प्रदर्शन में जिला संयोजक सौरभ कुमार साहू, कुलेश्वर कुमार,नीलिमा श्वेता लकड़ा,विवेक महतो,कमलेश महतो,प्रदीप बड़ाइक,अंजनी कुमारी,जितेंद्र गोप,रोहित साहू,अमित कुमार महतो आदि शामिल थे।