लॉकडाउन को सख्ती से लागू कराने प्रशासनिक महकमा सक्रिय

गोड्डा: जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण के बचाव एवं रोकथाम के लिए राज्य सरकार द्वारा स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के रूप में लगाए गए लॉकडाउन को सख्ती से लागू करवाने के लिए जिला प्रशासन काफी सक्रिय हो गया है। उपायुक्त भोर सिंह यादव एवं पुलिस अधीक्षक वाई एस रमेश के द्वारा तीसरे दिन जिले के शहरी क्षेत्रों के चौक-चौराहों पर जाकर प्रतिनियुक्त दण्डाधिकारियों व पुलिस पदाधिकारियो द्वारा लॉकडाउन का अनुपालन सुनिश्चित कराने के निर्देश दिए गए।
डीसी एवं एसपी के द्वारा चौक चौराहों पर ई- पास को लेकर सघन जांच अभियान चलाया गया।
जिले के सीमावर्ती क्षेत्रों में चेकपोस्ट पर राज्य सरकार के द्वारा जारी किए गए दिशा-निर्देशो का अक्षरशः अनुपालन कराया जा रहा है तथा प्रतिबंधित वाहनों को बिना ई- पास के एंट्री नहीं दी जा रही है।

उपायुक्त श्री यादव ने बताया कि जिले में कोरोना के बढ़ते संक्रमण को देखते हुए हम सभी को अत्यंत ही सजग एवं सावधान रहने की जरूरत है। इसके लिए आवश्यक है कि सभी लोग साफ-सफाई ,मास्क के उपयोग, सेनेटाईजर एवं सामाजिक दूरी का अनिवार्य रूप से पालन करें एवं दूसरों को भी ऐसा करने हेतु प्रेरित करें। इससे हम कोरोना वायरस से स्वयं का एवं अपने परिवार का बचाव कर सकते हैं। हमारी थोड़ी सी भी लापरवाही हमारे परिवार एवं जिले के लिए घातक साबित हो सकती है। इसलिए अत्यधिक संख्या में लोगों को जागरूक करने एवं मास्क पहनकर हीं घरों से बाहर निकलने की प्रवृति को बढ़ावा देने हेतु जिला प्रशासन द्वारा मास्क एवं हेलमेट , वैध ई-पास के जरिए वाहनों का संचालन अभियान जिले में 27 मई तक निरंतर चलाया जाएगा। उन्होंने आगे कहा कि इस प्रकार के चेकिंग अभियान का मुख्य उद्देश्य लोगों को कोरोना वायरस के प्रति जागरूक करना है।
उपायुक्त ने बताया कि स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह का अनुपालन सुनिश्चित कराने हेतु सभी अंतर्राज्यीय एवं जिले के सीमाओं पर चेक पोस्ट स्थापित किए गए हैं। उनकी निगरानी प्रतिनियुक्त दंडाधिकारी , स्वास्थ्य विभाग के अधिकारी व अन्य कर्मियों के द्वारा सीसीटीवी की निगरानी में की जा रही है । बिना वैध ई-पास के जरिए अंतर्राज्यीय एवं जिले के सीमाओं पर प्रवेश वर्जित है।
मौके अनुमंडल पदाधिकारी गोड्डा ऋतुराज ,अनुमंडल पुलिस पदाधिकारी गोड्डा आनंद मोहन सिंह , नगर थाना प्रभारी मुकेश कुमार पांडे सहित अन्य पुलिस सुरक्षाकर्मी मौजूद थे।