31 मई से अधिवक्ता वर्चुअल करेंगे न्यायिक कार्य

रामगढ : 16 मई से जिला अधिवक्ता संघ रामगढ़ के तदर्थ कमेटी द्वारा अधिवक्ताओं से ली गई राय के अनुसार कोरोना वैश्विक महामारी के मद्देनजर संघ ने 30 मई तक किसी भी न्यायिक कार्य में हिस्सा नहीं लेने से संबंधित निर्णय लिया था ।वर्तमान में पिछले कुछ दिनों में रामगढ़ जिला में कोरोना के संक्रमण की संख्या में काफी गिरावट आई है एवं धीरे-धीरे प्रभाव कम हो रहा है जिसको देखते व समझते हुए संघ की तदर्थ कमेटी के सदस्य अध्यक्ष आनंद अग्रवाल महासचिव सीता राम एवं कोषाध्यक्ष हरखनाथ महतो ने सर्वसम्मति से नीचे अंकित निर्णय लिया हैं जो निम्न प्रकार है : 1) 31मई दिन सोमवार से इच्छुक अधिवक्ता वर्चुअल /ऑनलाइन तरीके से, व्यवहार न्यायालय, रामगढ़ द्वारा निर्गत गाइडलाइन के अनुसार न्यायिक कार्यों का निष्पादन कर सकेंगें। 2) जिला एवं अनुमंडल संघ भवन , झारखंड स्टेट बार काउंसिल के निर्देश अनुसार अगले आदेश तक नहीं खोला जाएगा। 3) उपायुक्त, अपर समाहर्ता, अनुमंडल दंडाधिकारी भूमि सुधार उप समाहर्ता एवं कार्यपालक दंडाधिकारी रामगढ़ के न्यायालयों में अगले निर्णय तक कोई न्यायिक कार्य नहीं करेंगे । 4) कोई भी अधिवक्ता जिला एवं अनुमंडल संघ परिसर के आस – पास अनावश्यक मौजूद या समूह बनाकर उपस्थित नही रहेंगे। 5) सभी नोटरी अधिवक्ताओं द्वारा दस्तावेज निष्पादन संबंधित कार्य अपने आवास से ही करेंगे संघ भवन के आसपास कहीं भी बैठकर नॉटरी संबंधित कार्यों का निष्पादन नहीं किया जाएगा । 6) अधिवक्ता साथी सभी न्यायिक कार्य राज्य सरकार के कोरोना की गाइडलाइन एवं व्यवहार न्यायालय के गाइडलाइन के अधीन रहते हुए ही निष्पादित करेंगे। 7) अधिवक्ता मास्क, सैनिटाइजर ,सोशल डिस्टेंसिंग संबंधित नियमों का पालन करते हुए न्यायिक कार्यो का निष्पादन वर्चुअल /ऑनलाइन करेंगे।