शनिवार को कर्रा लरता में वज्रपात से पांच लोगों की मौत के बाद पूरे क्षेत्र में मातम का माहौल

खूंटीः कर्रा थाना क्षेत्र के लरता डहुटोली में शनिवार दोपहर को वज्रपात से एक परिवार के पांच लोगों की मौत हो जाने से पुरे क्षेत्र में मातम का माहौल छाया हुआ है वही रविवार सुबह कर्रा पुलिस प्रशासन कर्रा द्वारा पांचों लोगों के शव का पोस्टमार्टम कराकर लरता डहुटोली गांव पहुंचाया गया. सभी मृतकों का शव गांव पहुंचते ही पुरे गांव के लोगों का रो-रोकर बुरा हाल था. मृतकों में मंगा मुंडा, पत्नी जीवंती मुंडाइन, बेटा पुना मुंडा, पुत्रवधू जयमां खलखो (मुंडाईन) और पोता आयुष मुंडा शामिल है. ज्ञात हो शनिवार सुबह को धान का बिछड़ा छिटने बदाम बीज लगाने के लिए मांगा मुंडा अपने पूरे परिवार के साथ गांव से लगभग एक किलोमीटर दूर जोरको मुंडा टांड़ समीप खेत में गया हुआ था और सभी लोग नहाकर पानी आने के कारण एक पेड़ के नीचे बच रहे थे तभी दोपहर करीब दो बजे अचानक वज्रपात से मांगा मुंडा, पत्नी जीवन्ती मुंड़ाइन, बेटा पुना मुंडा, बहु जयमा खलखो व पोता आयुष मुंडा की घटना स्थल पर मौत हो गयी. लेकिन जयमा खलखो के गोद ढ़ाई साल का बेटा अर्पण मुंडा व बीस फीट दूरी खड़ी बेटी रेबिका होरो सुरक्षित बच गए एवं बैल चराकर घर लौट आई मांगा मुंडा बेटी करूणा कुमारी घटना के बाद से बुरा हाल है वह काफी सदमे में हैं खाना पीना सब छोड़ चुकी है एक बड़ी बेटी कृपा कुमारी दिल्ली में काम करने गयी है जो घटना की खबर पाकर घर लौट रही है।
रविवार को कर्रा थाना प्रभारी मुन्ना कुमार सिंह द्वारा वज्रपात से मृतक परिवार के बच्चे हुए बच्चे अर्पण मुंडा व रेबिका होरो को सीएचसी कर्रा लाकर स्वास्थ्य जांच कराया गया
वज्रपात से मृत पांचों व्यक्ति के शव ईसाई धर्मिक संस्कृति के अनुसार रविवार को दो कब्र में लरता डहुटोली व जोरों गांव के सीमाना में दफन किया गया।
वज्रपात की घटना की ख़बर पाकर रविवार को झामुमो, कांग्रेस व बीजेपी के कार्यकर्ता लरता डहुटोली पहुंचकर परिजनों ढ़डस बंधाया जिसमें झामुमो के खूंटी जिला अध्यक्ष जुबेर अहमद, खुंटी विधानसभा पूर्व प्रत्याशी सुशील पहन तोरपा विधानसभा पूर्व प्रत्याशी सुदीप गुड़िया केंद्रीय सदस्य मकसूद अंसारी एसटी मोर्चा अध्यक्ष हेमंत टोपनो कांग्रेस पार्टी के ओबीसी मोर्चा अध्यक्ष सोनी इमरान सचिव दिलीप केसरी भोला खान बीजेपी पूर्व खूंटी जिला अध्यक्ष काशी नाथ महतो कैलाश महतो बालकिशन महतो, मुखिया जागरण उरांव के अलावे अन्य सैकड़ों ने लरता डहुटोली पहुंचकर परिजनों का ढ़ाढ़स बंधाया।