भामाशाह सरस्वती शिशु विद्या मंदिर की छात्रा रही अर्चना 32वां प्रांतीय खेलकर प्रतियोगिता के लंबी कुद में लाया दूसरा स्थान

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही: मंजिल उन्हें मिलती है जिनके सपनों में जान होती है, पंख से कुछ नहीं होता हौसले से उड़ान होती है।किसी शायर की यह लाइनें बहुत लोगों ने पढ़ी और सुनी होगी, लेकिन बरही प्रखंड अंतर्गत पुरहारा गाँव की बेटी अर्चना कुमारी ने इसे खूब ठीक से समझा है और साबित कर दिया है कि हौसले के दम पर आसमां भी हासिल हो सकता है। बरही प्रखंड अंतर्गत रसोईया धमना पंचायत के पुरहारा गांव निवासी अर्चना कुमारी पिता सुरेश यादव का चयन अंडर-19 महिला झारखंड क्रिकेट एसोसिएशन प्रशिक्षण कैंप में तेज गेंदबाज के रूप में हजारीबाग जिला की खिलाड़ी की रूप में हुई है। वहीं मंगलवार को भामाशाह विद्यालय के प्राचार्य अरुण कुमार चौधरी ने पत्रकारों के बीच बताया कि अर्चना कुमारी पूर्व में भामाशाह सरस्वती शिशु विद्या मंदिर की छात्रा रही है। वहीं उन्होंने बताया कि विद्यालय में अध्यापन कार्य के समय अर्चना कुमारी ने 32 वा प्रांतीय खेलकूद समारोह जमशेदपुर में लंबी कूद में द्वितीय स्थान प्राप्त किया था। इनमें प्रतिभा की कोई कमी नहीं थी, आज जिस ऊंचाई पर पहुंची है, इससे विद्यालय परिवार काफी गौरवान्वित महसूस कर रहा है। वहीं विद्यालय परिवार अर्चना कुमारी को शुभकामनाएं देते हुए कहा कि अर्चना और ऊंचाई पर पहुंचे इसके लिए विद्यालय परिवार उनके जीवन की मंगलकामनाएं करती है।