अस्पताल उपाधीक्षक ने डॉ. पिंकी पाल से पूछा स्पष्टीकरण, 24 घंटे में जवाब देने का दिया निर्देश, डयूटी से गायब थी डॉक्टर साहिबा

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो:  जिला जनसंपर्क पदाधिकारी राहुल कुमार भारती एवं अन्य मरीजों की शिकायत पर सदर अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. रेणु भारती ने बिना किसी पूर्व सूचना के ओपीडी में अनुपस्थित रहने को लेकर नेत्र चिकित्सक डॉ. पिंकी पाल से स्पष्टीकरण पूछा है। उन्होंने अपने पत्र में लिखा है कि अपराह्न 1. 20 बजे तक ओपीडी कमरा संख्या 11 के बाहर कई मरीज आंख जांच कराने के लिए इंतजार कर रहे थे। लेकिन, आप बिना किसी पूर्व सूचना के अनुपस्थित थी। इसी संदर्भ में जब डीपीआरओ द्वारा आपको फोन किया गया था, तो आपने डीसी के साथ बैठक में शामिल होने की बात कहीं। आपने इमरजेंसी होने पर कोपरेटिव कालोनी में शाम चार बजे दिखाने की बात कहीं। जबकि, इस तरह की किसी भी बैठक में शामिल होने या ओपीडी में अनुपस्थित रहने के लिए अस्पताल उपाधीक्षक या मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी सह सिविल सर्जन को किसी भी तरह की कोई सूचना आपके द्वारा नहीं दी गई थी। इसी को लेकर नेत्र चिकित्सक डा. पिंकी पाल से अस्पताल उपाधीक्षक ने स्पष्टीकरण पूछा है।

क्या है मामला
जिला जनसंपर्क पदाधिकारी राहुल कुमार भारती की छह वर्षिय बच्ची को अचानक सिर में दर्द होने की शिकायत हुई। दर्द इतना ज्यादा था कि वह काफी रो रही थी। उन्हें लगा कि शायद आंख के किसी परेशानी के कारण सिर दर्द कर रहा होगा। आनन – फानन में डीपीआरओ उसे लेकर सदर अस्पताल पहुंचे लेकिन यहाँ नेत्र चिकित्सक डॉ. पिंकी पाल अनुपस्थित थी। उन्होंने उनके नंबर पर फोन किया तो जबाब मिला कि डॉक्टर साहिबा अभी डीसी लेवल बैठक में शामिल होने की बात बताई, ओपीडी कमरा संख्या 11 में आंख जांच कराने के लिए कई अन्य मरीज भी घंटों से खड़े थे। इस पर डीपीआरओ भारती ने अस्पताल उपाधीक्षक डॉ. रेणु भारती एवं सिविल सर्जन डॉ. अशोक कुमार पाठक* को पूरे मामले की जानकारी दी। बाद में, अस्पताल उपाधीक्षक व अन्य चिकित्सकों ने उनकी बेटी का उपचार किया।
डीपीआरओ ने बिना किसी वरीय चिकित्सक के जानकारी के नेत्र चिकित्सक के अनुपस्थि रहने को लेकर नाराजगी जताई। कहा कि दूर दराज से बेहतर चिकित्सीय सेवा का लाभ लेने के लिए लोग सदर अस्पताल पहुंचते हैं और अगर चिकित्सक अपने ड्यूटी पर बिना किसी पूर्व सूचना के अनुपस्थित रहेंगे तो मरीजों को कई परेशानियों का सामना करना पड़ेगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *