केन्द्र सरकार बढ़ती महंगाई के खिलाफ जल्द ठोस कार्रवाई करे: राजेश

रांची: पेट्रोल, डीजल, सरसों तेल, दलहन आदि की अनियंत्रित महंगाई चरम सीमा पर थी। आज प्रति सिलेंडर रसोई गैस की कीमत 25 बढ़ा दी गई है। जिससे निम्न, मध्यमवर्गीय एवं उच्चमध्यमवर्गीय परिवारों की हालात और खराब हो जाएगी। राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा प्रधानमंत्री से मांग करता है कि देश में बढ़ रहे अनियंत्रित महंगाई पर लगाम लगाए। और गरीब कमजोर परिवारों को दस-दस हजार रुपए उनके खाते में डाले जाएं। राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा गैस पर बढ़े हुए दाम को वापस लेने और गैस पर जो सब्सिडी रोक दी गई है उसे बहाल करने की भी की मांग करता है। उक्त बातें ओबीसी मोर्चा के प्रदेश अध्यक्ष राजेश कुमार ने एक बयान जारी कर कही।
भारतीय जनता पार्टी की सरकार ने चुनाव से पूर्व महंगाई पर रोक लगाने के नाम पर सत्ता में आई थी। सरकार ने महंगाई पर रोक तो नहीं लगाई। उल्टे महंगाई को और बढ़ा देने का काम किया है।
‌‌ आज रसोई गैस को भी 25 प्रति सिलेंडर महंगा कर दिया गया है।
पूर्व में जिस तरह से पेट्रोल, डीजल, सरसों तेल, दलहन के महंगाई आसमान छू रहा है। अब आम जनों को जीना दूभर हो जाएगा। कोरोना काल में लोगों का आय घट गई। हजारों लोगों की नौकरी चली गई।लोक डिप्रेशन में हैं। महंगाई और नौकरी चली जाने से लगातार लोग आत्महत्या कर रहे हैं। राष्ट्रीय ओबीसी मोर्चा केंद्र सरकार से मांग करता है कि महंगाई पर रोक लगाते हुए। निम्न, मध्यम वर्गीय परिवारों को 10000 उनके खाते में डाले जाएं।