वार्षिक लक्ष्य के अनुसार राजस्व वसूली करें: अपर समाहर्ता

– अपर समाहर्ता ने की राजस्व वसूली एवं भू अर्जन संबंधी मामलों की समीक्षा
गोड्डा: सोमवार को समाहरणालय स्थित सभागार में अपर समाहर्ता जुल्फिकार अली की अध्यक्षता में राजस्व वसूली एवं सरकारी परियोजनाओं के लिए भूमि से संबंधित मामलों की समीक्षात्मक बैठक आहूत की गई। बैठक में ईसीएल से संबंधित भू अर्जन प्रक्रिया के अलावे सरकारी परियोजनाओं के लिए भूमि से संबंधित मामलों की समीक्षा की गई। परिवहन विभाग, मत्स्य विभाग,विद्युत विभाग, उत्पाद विभाग,नगर परिषद, खनन विभाग सहित अन्य विभाग की भी समीक्षा की गई।
अपर समाहर्ता श्री अली ने बैठक में उपस्थित संबंधित पदाधिकारियों को निर्देश दिए कि लगान वसूली, नीलाम पत्र वाद, वाणिज्य कर, परिवहन विभाग,उत्पाद विभाग एवं निबंधन संबंधित विषयों पर विशेष ध्यान दिए जाएं। जिले के सभी अंचलाधिकारी को निर्देश दिए गए कि विशेष अभियान चलाकर सभी लंबित आवेदनों का निष्पादन जल्द से जल्द करें।

मौके पर राजस्व, भू अर्जन, परिवहन विभाग,मत्स्य विभाग, विद्युत विभाग,उत्पाद विभाग, नगर परिषद,खनन विभाग सहित अन्य विभागों के राजस्व वसूली की समीक्षा की गई। जिन विभागों के राजस्व वसूली से संबंधित रिपोर्ट में कमी पाई गई, उस विभागों के प्रधान को लक्ष्य के अनुरूप हासिल करने के निर्देश दिए गए। बैठक में सरकारी परियोजनाओं के लिए भूमि से संबंधित मामलों की भी समीक्षा कर संबंधित अधिकारियों को आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। अपर समाहर्ता ने सभी विभागीय प्रधानों को कहा कि वार्षिक लक्ष्य के अनुरूप राजस्व की वसूली नहीं हो पा रही है। इस संबंध में सभी विभागीय प्रधान को लक्ष्य प्राप्ति हेतु निर्देशित किए गए।
समीक्षा के दौरान अपर समाहर्ता गोड्डा के द्वारा उपस्थित सभी कर्मियों को पूरी पारदर्शिता के साथ कार्य करने के लिए आवश्यक दिशा निर्देश दिए गए। उन्होंने पेंडिंग पड़े कार्यो को पूरी पारदर्शिता के साथ जांच कर यथाशीघ्र पूर्ण करने के निर्देश दिए ताकि कार्यों का संपादन ससमय पूर्ण किया जा सके। विभिन्न प्रखंडों के अंचल अधिकारियों को उत्तराधिकारी नामांतरण से संबंधी कार्रवाई करने के निदेश दिए गए।
मौके पर अनुमंडल पदाधिकारी महागामा जीतेन्द्र कुमार देव, विधि शाखा प्रभारी सुजीत कुमार, भू -अर्जन पदाधिकारी कुमुदिनी टुडू, जिला खनन पदाधिकारी मेघलाल टुडू, विभिन्न प्रखंडों के अंचलाधिकारी, एवं संबंधित विभाग के पदाधिकारीगण मौजूद थे।