आगे आएं, हम सब मिलकर करेंगे बरही का विकास : विधायक उमाशंकर अकेला

रसोईया धमना में शिविर लगा ग्रामीणों की समस्याओं का हुआ समाधान
बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : आपके अधिकार, आपकी सरकार आपके द्वार कार्यक्रम के तहत बरही के रसोइया धमना पंचायत के उत्क्रमित मध्य विधालय प्रांगण में शिविर लगाया गया। कार्यक्रम की शुरुआत दीप प्रज्वलित कर किया गया। शिविर में जनसमस्याओं को जानने, उसका निराकरण व जागरूकता के उद्देश्य से अलग-अलग 14 स्टॉल लगाए गए थे। शिविर में बतौर मुख्य अतिथि विधायक उमाशंकर अकेला, बरही एसडीओ पूनम कुजूर, प्रमुख मंजू देवी, बीडीओ सह सीओ अरविंद देवाशीष टोप्पो, सीडीपीओ नीलू रानी, विस क्षेत्र सांसद प्रतिनिधि अर्जुन साहू, उपप्रमुख सिकन्दर राणा, सांसद प्रतिनिधि गणेश यादव, थाना प्रभारी नीरज कुमार सिंह, चिकित्सा पदाधिकारी डॉ मंतोष कुमार, जिप सदस्य संतोष रविदास, मुखिया विलास देवी प्रतिनिधि तापेश्वर प्रसाद आदि कई प्रशासनिक पदाधिकारी एवं जनप्रतिनिधि शिविर में पहुंचे। इनके अलावे समाजसेवी अब्दुल मनान वारसी, कुणाल कतरियार, गुरुदेव गुप्ता, बंधन यादव, मो तौकीर रजा, वार्ड सदस्य तबरेज अंसारी आदि शामिल थे। मौके पर विधायक उमाशंकर अकेला ने राज्य सरकार की उपलब्धियों व जन कल्याणकारी योजनाओं पर विस्तार से प्रकाश डालते हुए कहा कि राज्य की हेमंत सरकार विकास कार्यों को प्रगति देने के लिए निरन्तर बेहतर कार्य कर रही है। उपस्थित ग्रामीणों को संबोधित करते हुए कहा कि आप आगे आएं, हम सब मिलकर बरही के हर गांव व पंचायत का विकास करेंगे। आपके हरेक समस्या का समाधान करने के लिए प्रशासन की टीम प्रखंड से चल कर आपके गांव रसोइया धमना पहुंची है। इसलिए आप अपनी समस्या को खुलकर रखें। वहीं बरही एसडीओ पूनम कुजूर ने जानकारी दिया कि यह कार्यक्रम सरकार की ओर से आयोजित किया गया है। जिसमें ग्राम वासियों को हर एक समस्या का निदान किया जाएगा। वही बीडीओ सह सीओ अरविंद देवाशीष टोप्पो ने लोगों से अपील करते हुए कहा कि कार्यक्रम का उद्देश्य आपकी समस्या का समाधान हो, जो भी समस्या है उसे आवेदन के माध्यम से दें। सारी समस्याओं को एक निश्चित अवधि तक समाधान कर लिया जाएगा।
शिविर में लगा स्टॉल: भूमि राजस्व विभाग, ई – श्रम, समाजिक सुरक्षा, कल्याण विभाग, स्वस्थ्य विभाग, एचआइवी जांच, जेएसपीएलएस, कृषि पशुपालन एवं सहकारिताविभाग, मनरेगा, पेयजल एवं स्वच्छता विभाग, मत्स्य विभाग, बाल विकास परियोजना अंतर्गत सुकन्या, मातृत्व वंदना, कन्यादान, विकलांगता यन्त्र के लिए आवेदन, बिजली विभाग आदि के स्टॉल लगाया गया था।