कांग्रेसियों ने मनाया पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की जयंती

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही: भारतरत्न पूर्व प्रधानमंत्री स्व. राजीव गांधी की 77वीं जयंती शुक्रवार को प्रखंड कांग्रेस कार्यालय बरही में पूरे हर्षोल्लास के साथ सद्भावना दिवस के रूप में मनाया गया। मौके पर कार्यकर्ताओं ने उनके चित्र पर पुष्प अर्पित कर उन्हें याद किया। कार्यक्रम की अध्यक्षता प्रखंड अध्यक्ष इकबाल रजा व संचालन प्रखंड युवा अध्यक्ष अमित जायसवाल उर्फ बिट्टू ने किया। कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि कांग्रेस जिला महासचिव सह विधायक प्रतिनिधि बरही विधानसभा विनोद कुमार यादव, जिला महासचिव अब्दुल मनान वारसी उपस्थित थे। मौके पर विधायक प्रतिनिधि विनोद यादव ने कहा की स्व. राजीव गांधी ही थे जिन्होंने भारत में दूरसंचार क्रांति लाई, आज जिस डिजिटल इंडिया की चर्चा है उसकी कल्पना वे अपने जमाने में कर चुके थे। उन्हें डिजिटल इंडिया का आर्किटेक्ट और सूचना तकनीक दूरसंचार क्रांति का जनक भी कहा जाता है। प्रखंड अध्यक्ष इकबाल रजा ने कहा इंदिरा गांधी की हत्या के बाद 1984 से 1991 के बीच राजीव गांधी अपने कार्यों से देश की जनता के दिलो-दिमाग में अमिट छाप छोड़ी है।विधानसभा युवा अध्यक्ष मनोहर यादव ने कहा पहले देश में वोट देने की उम्र सीमा 21 वर्ष थी मगर युवा प्रधानमंत्री राजीव गांधी की नजर में उम्र सीमा गलत थी, उन्होंने 18 वर्ष की उम्र के युवाओं को मताधिकार देकर उन्हें देश के प्रति और जिम्मेवार तथा सशक्त बनाने की पहल किया। वहीं प्रखंड अध्यक्ष अमित जयसवाल ने स्व. राजीव गांधी की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि अल्प समय में हमारे प्रिय नेता ने जो भारत को दिया वह अविस्मरणीय है। हमें उनके अधूरे कार्यों को पूरा करने के लिए एकजुट होकर काम करना है। वहीं कार्यलय प्रभारी नरेश सिंह ने कहा कि गांव के बच्चों को भी उत्कृष्ट शिक्षा मिले इस सोच के साथ स्व. राजीव गांधी ने जवाहर नवोदय विद्यालयों की नींव डाली थी। कार्यक्रम में प्रखंड अध्यक्ष ओबीसी मोर्चा के सुनील कुमार साहू, उपाध्यक्ष प्रमोद सिंह, वन एवं पर्यावरण विभाग के विधायक प्रतिनिधि तौकीर रजा, विधायक प्रतिनिधि एफसीआई अशोक सिंह, युवा नेता शशि जयसवाल, विधानसभा सचिव सहकारिता विभाग प्रयाग प्रसाद, प्रखंड अध्यक्ष सहकारिता विभाग टिंकू केसरी, मो, सरताज, हरी प्रसाद गुप्ता, मनोज रविदास, मो. रिजवान अली, पवन सिंह, संतोष निषाद, मुकेश गुप्ता, मो सिराज आदि उपस्थित थे।