कॉस्टयूम ज्वेलरी उधमी कार्यक्रम का किया गया आयोजन

हिरणपुर: प्रखंड के हाथकाठी पंचायत भवन में भारतीय स्टेट बैंक ग्रामीण स्वरोजगार प्रशिक्षण संस्थान(आरसेटी) पाकुड़ द्वारा तेजस्विनी परियोजना के तहत महिलाओं का कॉस्ट्यूम ज्वैलरी उद्यमी कार्यक्रम का शुभारंभ हुआ जिसका विधिवत उदघाटन निदेशक आरसेटी फूलजेंस तिग्गा ने दीप प्रज्वलित कर किया।श्री तिग्गा ने प्रशिक्षुओ को संबोधित करते हुए स्वरोजगार करने की सलाह दी।उन्होंने जीवन स्तर को सुधार करने में प्रशिक्षण के महत्व को बताये। मौके पर मौजूद आरसेटी पाकुड़ के वरिष्ठ संकाय अमित कुमार बर्द्धन ने कहा कि वर्तमान समय में किसी भी प्रकार की हुनर की मांग है और इस हुनर का उपयोग कर कोई भी स्वालंबी बन सकता हैं।कॉस्ट्यूम ज्वैलरी एक ऐसी हुनर हैं, जिसके द्वारा रोजगार की काफी संभावनाएं है।कॉस्ट्यूम ज्वैलरी के द्वारा महिलाएं स्वरोजगार से जुड़कर अपने को अर्थिक रूप से सशक्त कर सकती हैं।उन्होंने कहा कि प्रशिक्षुओ को कॉस्ट्यूम ज्वेलरी के साथ-साथ उद्दमी बनने के लिए उद्दमी योग्यता के गुण, विपणन,समय प्रबंधन, वित्तीय समावेशन,प्रभावी बोलचाल,प्रोजेक्ट रिपोर्ट तैयार करने आदि से संबंधित जानकारी भी दी जाएगी।सफलतापूर्वक प्रशिक्षण लेने के बाद प्रशिक्षुओ को अगले दो सालों तक फॉलोअप किया जाएगा ताकि वह स्वालंबी बन सके।
आज के इस मौके पर आरसेटी के संकाय वापी दास, तेजेस्विनी परियोजना के प्रखंड समन्वयक मो नाजिर अंसारी, फील्ड कोऑर्डिनेटर मो मुस्तफा अंसारी व अन्य लोग मौजूद थे।