डीसी ने नौनिहालों को जिंदगी की दो बंद पिलाकर तीन दिवसीय पल्स पोलियो अभियान का किया

जिला के सभी बुथों पर पिलाई गई दवा
पाकुड़: माॅ बाप रूठे तो रूठे परन्तू एक भी बच्चा पोलियो खुराक पिने से ना छुटे के तर्ज पर जिले भर में रविवार से तीन दिवसीय पल्स पोलियो अभियान की शुरुआत हुई। पुराना सदर अस्पताल परिसर में उपायुक्त कुलदीप चैधरी, सिविल सर्जन डॉ. रामदेव पासवान, आईटीडीए निर्देशक मो० शाहिद अख्तर, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी डॉ० चंदन एंव सदर अंचलाधिकारी आलोक वरण केसरी ने नवजात बच्चों को पोलियों खुराक पिलाकर अभियान की शुरुआत की। वहीं सिविल सर्जन के द्वारा बताया गया कि जिला के 1115 बूथ पर 2203 वैक्सीनेटर, 268 सुपरवाइजर की मदद से 1लाख 88 हजार 309 बच्चों को पोलियो रोधी खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा गया है और लक्ष्य को पूरा करने को ले कर सारी तैयारी पूरी की जा चूकी है।वहीं अभियान की शुरूआत करने के बाद उपायुक्त ने अपील किया कि खुराक पिलाने में किसी प्रकार की कोई लापरवाही नहीं बरतें। ईमानदारी पूर्वक 0-5 वर्ष के बच्चों को पोलियो रोधी खुराक पिलाएं। पोलियो अभियान को सफल बनाने के लिए अभियान के प्रथम दिन बूथों पर 0-5 वर्ष के बच्चों को खुराक पिलाई गई। दूसरे व तीसरे दिन घर-घर जाकर खुराक पिलाना है। उपायुक्त ने कहा कि हर हाल में लक्ष्य की प्राप्ति करनी है।उपायुक्त ने कहा कि कोविड – 19 को लेकर जारी गाइड लाइन का शत प्रतिशत अनुपालन करना है। सोशल डिस्टेंसिंग, मास्क आदि का इस्तेमाल कर बच्चों को दवा पिलानी है। जिला स्तर के पदाधिकारी भी क्षेत्र भ्रमण के दौरान अभियान की निगरानी करेंगे। इस बार पंचायत/प्रखंड एवं जिला स्तर से अभियान के सफल आयोजन को लेकर मॉनिटरिंग की जा रही है। वरीय पदाधिकारियों को विभिन्न प्रखंडों से टैग किया गया है।लिट्टीपाड़ा प्रतिनिधि के अनुसार तीन दिवसीय पल्स पोलियो अभियान की शुरुआत रविवार को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र के बूथ में बीडीओ संजय कुमार ने पांच वर्ष तक के बच्चों को पोलियो की दो बूंद पिला कर किया।पल्स पोलियो अभियान सुबह आठ बजे से शाम चार बजे तक स्थाई बूथों पर पोलियो की दवा पिलाई गई। इस दौरान बीडीओ व प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी डॉ अरविंद कुशल एक्का ने क्षेत्र के दर्जनों बूथों का निरीक्षण किया।डॉ एक्का ने बताया तीन दिवसीय पल्स पोलियो अभियान के दौरान क्षेत्र के 22198 बच्चों को पोलियो की दो बूंद पिलाने के लिए प्रखंड क्षेत्र में 126 बूथ एवं तीन ट्रांजिस्ट बूथ बनाया गया है। उन्होंने प्रथम दिन 90फीसदी बच्चों को पोलियो की खुराक पिलाने का लक्ष्य रखा है। बाकी बचे बच्चों को दूसरे और तीसरे दिन घर-घर जाकर पोलियो की दवा पिलाई जाएगी।वहीं रविवार को जिला के हिरणपुर,अमड़ापाड़ा,पाकुड़िया व महेशपुर प्रखं डमें भी तीन दिवसीय पेालियो अभियान प्रारंभ करते हुये बच्चों को दवा पिलाई गई।