लॉकडाउन में भी मुफ्त के राशन पर डीलरों का डाका

– लाभुकों में गहरा रहा असंतोष
विजय कुमार की रिपोर्ट

मेहरमा : जिले के मेहरमा एवं बोआरीजोर प्रखंड के सीमावर्ती दलदली, गोपालपुर पंचायत के ईश्वरचक समेत अन्य आदिवासी बहुल गांवों के राशन कार्ड धारियों ने जन वितरण प्रणाली के डीलर तारेस चन्द्र दास ( निबंधन संख्या- 13/84 ) पर मनमानी एवं लाभुकों के हक पर डाका डालने का आरोप लगाया है। डीलर की मनमानी के कारण कार्ड धारियों में असंतोष गहराता जा रहा है।
बताया जाता है कि बीते कई माह से नियमित समय पर अनाज का वितरण नहीं किया जा रहा है। जिसके कारण दूरदराज से आने वाले सभी राशन कार्ड धारियों को बेहद परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है‌। जबकि इस संबंध में राशन कार्ड धारियों ने कई बार अधिकारियों से भी इसकी शिकायत कर चुके हैं। लेकिन कई राशन कार्ड धारियों का मानना है कि डीलर की इतनी ऊंची पहुंच है कि पूरा आधिकारिक सिस्टम मैनेज हो जाता है।
राशनकार्ड धारियों की शिकायत नहीं सुने जाने पर ईश्वरचक में दो दर्जन से अधिक राशन कार्ड धारियों ने डीलर के खिलाफ नारेबाजी किया। साथ ही डीलर पर मनमानी गाली-गलौज अभद्र व्यवहार और नियमित राशन नहीं देने समेत अनाज की कटौती किए जाने का आरोप लगाया है। गांव के कई राशन कार्ड धारियों ने यह भी आरोप लगाया है कि जिस वक्त राशन का उठाव किया जाता है उस समय ई पोस मशीन से किसी प्रकार का पर्ची निकालकर नहीं दिया जाता है जिसके कारण किसी प्रकार की जानकारी हासिल नहीं हो पाती है और आदिवासी समाज समझकर डीलर के द्वारा मूर्ख बना दिया जाता है। मौके पर उपस्थित राशन कार्ड धारियों में बड़की टुडू, नारायण हांसदा, मनोज बास्की, बाबूजी बास्की हेब्रम, मानसिंह हांसदा, चरण मुर्मू, दिनेश मुर्मू, हेब्रो बास्की, मारकुस मुर्मू, लखन बास्की, रावण हांसदा, रामजी बास्की समेत अन्य राशन कार्डधारी उपस्थित थे।