उपायुक्त की अध्यक्षता में जिला अनुकम्पा समिति की बैठक संपन्न

बैठक में सामान्य अनुकम्पा के 18 तथा उग्रवादी अनुकम्पा के 03 मामलों पर विचार किया गया

गुमला : उपायुक्त शिशिर कुमार सिन्हा की अध्यक्षता में जिला अनुकंपा समिति की बैठक आईटीडीए भवन स्थित उपायुक्त के कार्यालय प्रकोष्ठ में की गई। बैठक में मुख्य रूप से सामान्य अनुकंपा एवं उग्रवादी हिंसा से संबंधित तृतीय एवं चतुर्थ वर्ग पर नियुक्ति हेतु प्राप्त आवेदनों पर चर्चा की गई। जिसमें सामान्य अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति हेतु कुल 37 तथा उग्रवादी हिंसा के आधार पर नियुक्ति हेतु कुल 10 मामलों पर विचार-विमर्श किया गया। उपायुक्त ने समिति के साथ क्रमवार सभी आवेदकों के शैक्षणिक अंक प्रमाण पत्र, शपथ पत्र, अनापत्ति प्रमाण पत्र व अन्य आवश्यक दस्तावेजों का बारीकी से जाँच कर स्थापना शाखा को आवश्यक कार्यवाही हेतु दिशा-निर्देश दिए।

बैठक में उपायुक्त ने बताया कि सामान्य अनुकंपा के आधार पर 37 एवं उग्रवादी हिंसा के आधार पर कुल 10 आवेदनों की प्राप्ति हुई है। जहाँ सामान्य अनुकंपा के आधार पर प्राप्त 37 आवेदनों में से 18 आवेदनों पर विचार-विमर्श कर संबंधित विभागों को अनुशंसा हेतु भेजा गया। इसके साथ ही उपायुक्त ने कार्यपालक दंडाधिकारी के समक्ष शपथ पत्र प्राप्त करते हुए आवेदकों द्वारा दिए गए शैक्षणिक अंक प्रमाण पत्र की छायाप्रति का मूल प्रति से मिलान कर सत्यापित करने का निर्देश दिया। वहीं उग्रवादी हिंसा के तहत प्राप्त 10 आवेदनों में से 03 आवेदनों पर विचार-विमर्श कर संबंधित विभागों के अनुशंसा हेतु भेजा गया। विदित हो कि शेष आवेदनों को नियुक्ति हेतु निर्धारित नियमों को पूर्ण नहीं करने के कारण चयनित नहीं किया गया।

ज्ञातव्य है कि उग्रवादी हिंसा के तहत प्राप्त आवेदनों में स्वर्गीय रोशन टोप्पो के आश्रित पुत्र अभिजीत टोप्पो द्वारा पुलिस अधीक्षक क समक्ष आवेदन समर्पित किया गया था। पुलिस अधीक्षक द्वारा आपराधिक इतिहास प्रतिवेदन प्राप्त किया गया था। प्राप्त प्रतिवेदनानुसार मृतक की हत्या अज्ञात अपराधियों के द्वारा की गई थी। अतः उग्रवादी हिंसा के तहत नौकरी अनुमान्य नहीं है।

इसके अलावा चौकीदार अनुकंपा समिति के साथ चौकीदार अनुकंपा नियुक्ति हेतु प्राप्त आवेदनों की अनुशंसा पर विचार-विमर्श किया गया। विदित हो कि चौकीदार अनुकंपा नियुक्ति हेतु कुल 10 आवेदन प्राप्त किए गए था। जिसमें से 07 आवेदनों पर विचार-विमर्श हेतु विभाग को अनुशंसा हेतु भेजा गया।

उपस्थिति
बैठक में उपायुक्त गुमला शिशिर कुमार सिन्हा, सिविल सर्जन डॉ. राजू कच्छप, उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अंबष्ठ, अपर समाहर्त्ता सह स्थापना उप समाहर्त्ता सुधीर कुमार गुप्ता, सदर अनुमंडल पदाधिकारी रवि आनंद, पुलिस उपाधीक्षक (मुख्यालय) प्राण रंजन, जिला शिक्षा पदाधिकारी सह जिला शिक्षा अधीक्षक सुरेंद्र पाण्डेय, जिला समाज कल्याण पदाधिकारी सीता पुष्पा, जिला आपूर्ति पदाधिकारी गुलाम समदानी, प्रभारी पदाधिकारी सामान्य शाखा महेंद्र रविदास, कार्यालय अधीक्षक शशि कुमार मिश्रा व अन्य उपस्थित थे।