उपायुक्त की अध्यक्षता में हुई जिला स्तरीय समन्वय समिति की बैठक

पदाघिकारियों को दिए गए कई आवश्यक निर्देश
चतरा। समाहरणालय स्थित सभा कक्ष में बुधवार को उपायुक्त अंजली यादव की अध्यक्षता में जन्म-मृत्यु निबंधन अन्तर्गत जिला स्तरीय समन्वय समिति (डीएलसीसी) की बैठक हुई। जिसमें उपायुक्त ने पंचायत स्तर पर जन्म-मृत्यु ऑनलाईन निबंधन से संबंधित आने वाली समस्याओं की समीक्षा करते हुए प्राथमिकता के आधार पर सभी पंचायत सचिव को तय समय सीमा में जन्म-मृत्यु निबंधन हेतु अग्रेतर कार्रवाई करने का निर्देश दिया। साथ हीं सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी को निबंधन संबंधित प्रखंड स्तर पर साप्ताहिक समीक्षा करने का निर्देश दिया गया। इसके अलावे समीक्षा के दौरान सदर अस्पताल, सीएचसी, पीएचसी, एचएससी में किसी कारण वश जन्म-मृत्यु का सीआरएस पोर्टल पर शत-प्रतिशत ऑनलाईन नहीं होने के मामले में उपायुक्त ने सिविल सर्जन को निर्देशित किया कि प्रमाण पत्र निबंधन सुनिश्चित कराया जाए। जिससे लोगों को प्रमाण पत्र बनाने हेतु समस्याओं का सामना न करना पड़े। जन्म-मृत्यु के नामांकन में जिला शिक्षा पदाधिकारी, जिला कल्याण पंचायत राज पदाधिकारी को सहयोग करने को कहा गया। बैठक में जिला सांख्यिकी पदाधिकारी को जन्म मृत्यु निबंधन ईकाईयों से संबंधित पंचायतों का ससमय निरीक्षण कर रिपोर्ट सौंपने को कहा गया। वहीं कोविड-19 से हुए मृत्यु के मद्देनजर उपायुक्त ने मृत्यु प्रमाण पत्र निबंधन से पूर्व कोविड-19 पॉजिटिव प्रमाण पत्र देखने के पश्चात हीं अनुशंसा करने का निर्देश दिया। बैठक में मुख्य रूप से निदेशक डीआरडीए, एसडीओ चतरा, सिविल सर्जन, जिला जन संपर्क पदाधिकारी के अलावे सभी संबंधित पदाधिकारी मौजूद थे।