जमीन विवाद में मारपीट, आधा दर्जन घायल

– एक पक्ष ने लगाया छेड़खानी तो दूसरे ने लगाया डायन कहकर मारपीट का आरोप
विजय कुमार की रिपोर्ट
मेहरमा : स्थानीय थाना क्षेत्र के दिग्घी पंचायत अंतर्गत देवनचक पहाड़पुर गांव में सरकारी जमीन विवाद को लेकर दो पक्षों के बीच जमकर लाठी और डंडा चला। इस दौरान दोनों पक्षों के छह लोग गंभीर रूप से घायल हो गए हैं। घायलो में एक पक्ष के सपना कुमारी, ललिता देवी, अरविंद पासवान और द्वितीय पक्ष के भोला पासवान, श्रवण पासवान, भागो देवी शामिल हैं। सभी का इलाज मेहरमा सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र में चल रहा है।
बताया जाता है कि मामले को लेकर दोनों पक्षों ने मेहरमा थाना में एक दूसरे के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई है। प्रथम पक्ष से एक नाबालिग लड़की ने थाना में आवेदन देकर आरोप लगाया है कि शुक्रवार को शाम में अपने घर पर अकेली थी। उसी वक्त अचानक उनके घर पर भोला पासवान, श्रवण पासवान, राजेश पासवान, सुरेश पासवान, सुबोध पासवान, भागो देवी ने एकमत होकर उसके घर को घेर लिया। भोला पासवान एवं सुबोध पासवान उसके पिता को खोजते हुए गाली गलौज करते घर में घुस गया। पिताजी घर में नहीं रहने के कारण उसके साथ छेड़छाड़ करते हुए जमीन पर पटक दिया। साथ ही गलत करने की नियत से मेरे ऊपर चढ़ गया और मेरा कपड़ा भी फाड़ दिया। वह जब चिल्लाने लगी तो उसे बचाने उसकी चाची आई तो उनके साथ भी बदसलूकी किया और उनका कपड़ा फाड़ भी दिया। साथ ही उन्होंने देसी कट्टा दिखाकर मारपीट किया। उक्त घटना को अंजाम देने में कई लोगों को नामजद अभियुक्त बनाया गया है।

इधर द्वितीय पक्ष की भागो देवी ने प्रथम पक्ष पर मेहरमा थाना में डायन कहकर मारपीट करने का आरोप लगाते हुए आवेदन दी है। उन्होंने प्रथम पक्ष के लोगों पर आरोप लगाते हुए कहा है कि शुक्रवार को दोपहर लगभग दो बजे अपने दरवाजे पर खड़ी थीं। अचानक बद्री नारायण पासवान डायन कहकर उसका बाल पकड़कर गिरा दिया और मारपीट करने लगा। उनका ब्लाउज भी फाड़ फाड़ दिया गया। बेटा श्रवण पासवान एवं भोला पासवान ने जमीन पर पड़ा देखकर उठाने लगा यह देखकर हमारा तीनों गोतिया का परिवार हमलोगों के साथ बेरहमी से मारपीट किया। मारपीट करने में बद्री नारायण पासवान ने लोहे के रड से भोला पासवान को माथे पर मारा, जिससे खून बहने लगा। बताते चलें कि जिस जमीन विवाद को लेकर मारपीट हुई है, उक्त जमीन का मामला अनुमंडल न्यायालय में सुनवाई के लिए लंबित है। पूर्व में भी जमीन को लेकर मारपीट हो चुकी है इधर प्रथम पक्ष के पीड़ित परिवार ने पुलिस अधीक्षक से दोषी द्वितीय पक्ष के लोगों पर कठोर कार्रवाई की मांग की है। इस संबंध में मेहरमा थाना प्रभारी पल्लवी कुजूर से मोबाइल पर जानकारी लेने की कोशिश की गई लेकिन उन्होंने फोन रिसीव नहीं किया।