दुकान में खाद्यान्न कम मिलने के आरोप में डीलर के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज

– लाभुकों की हुंकार के बाद टूटी विभाग की कुंभकर्णी निद्रा
– प्राथमिकी में कालाबाजारी के लिए ले जाया जा रहा 20 बोरा चावल लदा जब्त ऑटो की चर्चा तक नहीं
विजय कुमार की रिपोर्ट
मेहरमा : मेहरमा पंचायत अंतर्गत पहाडखंड के जन वितरण प्रणाली के डीलर ललन प्रसाद की दुकान 26 अगस्त को महागामा के अनुमंडल पदाधिकारी जितेंद्र कुमार देव के निर्देश पर मेहरमा के आपूर्ति पदाधिकारी रवीन्द्र नाथ मुर्मू ने सील कर दिया था। यह कार्रवाई तब की गई थी, जब डीलर की दुकान से कालाबाजारी के लिए ऑटो पढ़ ले जाया जा रहा 20 बोरा चावल ग्रामीणों ने पकड़ कर विभाग के हवाले किया था। लेकिन डीलर पर कार्रवाई करने के बदले प्रशासन एवं आपूर्ति विभाग 5 दिनों तक उदासीन बना रहा। चर्चा है कि इस दौरान प्रशासन एवं आपूर्ति विभाग के स्तर से डीलर को बचाने के लिए तिकड़म लगाया जाता रहा। लेकिन ग्रामीणों के प्रदर्शन के बाद विभाग की ओर से बुधवार को डीलर के खिलाफ प्राथमिकी दर्ज कराई गई। लेकिन हैरत की बात यह है कि दर्ज प्राथमिकी में कालाबाजारी के लिए ले जाया जा रहा 20 बोरा चावल लदे जब्त ऑटो की चर्चा तक नहीं है।
बताते चलें कि ग्रामीणों ने उक्त डीलर के दुकान से 20 बोरा चावल ऑटो में लोडिंग कर कालाबाजारी के लिए ले जाने के दौरान पकड़कर मेहरमा प्रशासन के हवाले कर दिया था। उसी समय से गांव के सभी कार्डधारी डीलर के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कर कठोर कार्रवाई की मांग कर रहे थे। लेकिन आपूर्ति विभाग डीलर को बचाने के लिए पूरी कोशिश में लगा रहा। जब आक्रोशित कार्ड धारियों द्वारा प्रखंड घेराव एवं आंदोलन करने की आवाज बुलंद होने लगी, तो प्रशासन ने विभागीय खानापूर्ति करने के लिए बुधवार को मेहरमा थाना कांड संख्या 149/21 दर्ज करा दिया है।
दर्ज प्राथमिकी में डीलर के विरुद्ध आरोप लगाया गया है कि बुधवार को मेहरमा सीओ सुनील कुमार की उपस्थिति में डीलर का सील दुकान खोला गया। जांच के दौरान 17 बोरा चावल और 12 बोरा गेहूं पाया गया। जिसमें कि 42 किलोग्राम चावल 59 किलोग्राम गेहूं पंजी के मुताबिक कम पाया गया है। जो नियम संगत नहीं है।
लेकिन बताते चलें कि जिस वक्त डीलर की दुकान सीज किया गया था, उस समय डीलर के सूचना बोर्ड पर स्टॉक शून्य था। सबसे बड़ा सवाल उठता है कि जब गोदाम का स्टॉक शून्य था तो फिर डीलर के गोदाम से खाद्यान्न कैसे पाया गया ?

क्या कहते हैं थाना प्रभारी

इस संबंध में मेहरमा थाना प्रभारी पल्लवी कुजुर ने बताया कि प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी रविंदर नाथ मुर्मू द्वारा डीलर का दुकान में खाद्यान्न कम पाए जाने को लेकर डीलर के विरुद्ध प्राथमिकी दर्ज कराने के लिए आवेदन दिया गया है। साथ ही 26 अगस्त को 20 बोरा चावल लदा ऑटो छोड़ने का आवेदन दिया गया है।