गरीबों को मिलने वाला अनाज डीलरों का बना निवाला

– बसंतराय प्रखंड में पीडीएस के डीलरों द्वारा लाभुकों को नहीं बांटा गया है जून माह का अनाज
– डीलरों की मनमानी के खिलाफ भाजपा ने बीडीओ को सौंपा ज्ञापन
कामिल की रिपोर्ट
बसंतराय: प्रखंड में जन वितरण प्रणाली के डीलरों की मनमानी थमने का नाम नहीं ले रही है। गरीब लाभुकों को सरकार की ओर से मिलने वाला अनाज डीलरों का निवाला बनता जा रहा है। लाभुकों के हक पर सिस्टम द्वारा खुलेआम डाका डालने का काम किया जा रहा है। जून माह का अनाज डीलरों द्वारा लाभुकों को नहीं दिया गया है। डीलरों के इस दुस्साहस को संबंधित अधिकारियों द्वारा संरक्षण मिलने की संभावना से इनकार नहीं किया जा सकता है। डीलरों की मनमानी के खिलाफ लाभुकों में असंतोष गहराता जा रहा है। लाभुकों के हित में भाजपा ने मोर्चा खोल दिया है।
अनाज की कालाबाजारी किए जाने का गंभीर आरोप लगाते हुए भाजपा कार्यकर्ताओ ने प्रखंड विकास पदाधिकारी के नाम एक आवेदन सौंपा है। भाजपा प्रखंड अध्यक्ष प्रदीप शर्मा ने बुधवार को जानकारी देते हुए बताया कि पूरे प्रखंड क्षेत्र में जन वितरण प्रणाली विक्रेताओं के द्वारा जून माह के सरकारी अनाज का अब तक वितरण नहीं किए जाने की जानकारी मिल रही है। जबकि जिले के अन्य प्रखंडों में जून माह के अनाज का वितरण लाभुकों के बीच किया जा चुका है। उन्होंने प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी निरंजन कुमार पर गरीबों का अनाज की कालाबाजारी किए जाने में संलिप्तता का गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि प्रखंड आपूर्ति पदाधिकारी बीते कई सालों से बसंतराय प्रखंड में ही कार्यरत हैं।कई पद के पदभार में है।जिस कारण उनके द्वारा कार्य में भारी अनियमितता बरती जाती है।
श्री शर्मा ने बताया कि बसंतराय प्रखंड गोड्डा जिले का अति पिछड़ा प्रखंड है, जहां अधिकांश आबादी गरीबी रेखा से नीचे बसर करती है। कोरोना जैसे संकटकाल में जनता के पास आमदनी का कोई ठोस जरिया भी नहीं है।अधिकांश आबादी सरकार द्वारा दी जाने वाली जन वितरण प्रणाली के अनाजों पर आश्रित है। ऐसे कठिन समय में पूरे प्रखंड क्षेत्र का जून महीने का गरीबों का निवाला छीनना न्यायोचित नहीं है।
उन्होंने प्रखंड विकास पदाधिकारी मुंशी राम को आवेदन देकर न्यायिक जांच की मांग करते हुए अविलंब जून माह का अनाज वितरण कराने की मांग की है। श्री ने बताया कि अगर गरीबों की हकमारी की जाती है तो भाजपा चुप नही बैठेगी। गरीबों के हक की लड़ाई लड़ी जाएगी।