ह्रदय विदारक घटना: रेल पुल पार करते चार की मौत

रामगोपाल जेना
चक्रधरपूर: चक्रधरपुर में बुधवार की दोपहर मुंबई हावड़ा मुख्य रेलमार्ग पर बिंजय पुलिया के समीप राउरकेला से टाटानगर की ओर जा रही दुरंतो एक्सप्रेस की चपेट में आने से एक ही परिवार के चार लोगों की घटनास्थल पर ही कटकर मौत हो गई। इसमें मां के अलावा उसका बेटा, बेटी और बहू शामिल है। ये सभी बड़ाबांबो के चलांगजुड़ी के रहनेवाले हैं। घटनास्थल रेलवे फाटक से करीब आधा किलोमीटर दूर घटी। बताया जा रहा है कि सभी सदस्य उस समय पटरी पार कर रहे थे, उन्हें ट्रेन आने का आभास भी नहीं हुआ। खबर लिखे जाने तक रेलवे आवागमन पूरी तरह ठप पड़ा था। हालांकि दुरंतो एक्सप्रेस अपने रफ्तार से घटनास्थल से निकल गई। हादसे के बाद घटनास्थल पर स्थानीय लोगों की काफी भीड़ इकट्ठा हो गई। इसके बाद पहुंची पुलिस ने लोगों को खदेड़ा। चक्रधरपुर थाना प्रभारी प्रवीण कुमार और रेलवे पुलिस मौके पर पहुंच चुके थे। ट्रेन की चपेट में आने से चारों लोगों के चिथड़े उड़ गए। घटनास्थल से 300 मीटर दूर तक शव के टुकड़े देखे गए। शव के कुछ टुकड़े बिंजय पुलिया के नीचे नदी में भी जा गिरे। पुलिस ने फिलहाल शव के टुकड़ों को ढक दिया है, उन्हें उठाने की प्रक्रिया की जाएगी। मृतकों में वर्षीय सोमा पूर्ति (71 ), उसका बेटा वर्षीय अमरसिंह पूर्ति (21), बेटी बाह पूर्ति और बहू शामिल है। ये सभी बड़ाबांबो के चलांगजुड़ी के रहनेवाले हैं। ये चक्रधरपुर में इलाहाबाद बैंक में किसी काम से आए थे। वापस लौटने के लिए ये स्टेशन जा रहे थे, जिसके लिए इन्होंने पटरी का सहारा लिया। इसी बीच यह हादसा हो गया।