एसबीआई के चीफ मैनेजर के मौत मामले में उनके भाई ने जताया संदेह

गढ़वा से नित्यानंद दुबे की रिपोर्ट
गढ़वा : जिले के एसबीआई नगर ऊंटारी शाखा के चीफ मैनेजर चंदन कुमार की मौत के मामले में उनके भाई ने उनकी मौत पर संदेह व्यक्त करते हुये हत्या की आशंका जतायी है। उन्होंने थाने में आवेदन देकर पुलिस से अग्रेतर कार्रवाई का अनुरोध किया है।
सूचना के बाद नगर उंटारी पहुंचे कुंदन कुमार, चचेरे भाई ऋषिकेश घोष, पीयूष प्रखर व बहनोई सुनील सिंह स्टेशन रोड स्थित प्रो बीडी सिंह के घर गये। जहां पर मैनेजर चंदन कुमार किराये पर रहते थे। परिजनों ने यहां पहुंचकर उनके कमरे का मुआयना किया।
परिजनों ने थाना प्रभारी योगेंद्र कुमार व एसडीपीओ प्रमोद कुमार केसरी से मुलाकात कर मामले की निष्पक्ष जांच का अनुरोध किया। एसडीपीओ प्रमोद कुमार केसरी ने परिजनों को आश्वस्त करते हुये कहा कि मामले की सभी बिंदुओं पर जांच की जायेगी।
एसडीपीओ ने परिजनों को जानकारी दी कि पुलिस ने घटनास्थल की वीडियोग्राफी करायी है। साथ ही बड़ी सूक्ष्म तरीके से एक एक चीजों को देखा है। मोबाईल फोन का सीडीआर निकाला जा रहा है। मेडिकल बोर्ड गठित कर शव का पोस्टमॉर्टम कराने के लिये भी अनुशंसा की गयी है।
मृतक के बहनोई सुनील सिंह ने बताया कि चंदन का किसी के साथ कोई विवाद नहीं था। वे काफी हंसमुख और व्यवहार कुशल इंसान थे। वे आत्महत्या नहीं कर सकते। उनके साथ साजिश हुई है। कुंदन कुमार ने कहा कि भैया कभी आत्महत्या नहीं कर सकते, घटनास्थल को देखकर उन्हें लगता कि वे साजिश के शिकार हुये हैं।
चंदन कुमार का शव शनिवार को करीब तीन बजे स्टेशन रोड स्थित उनके किराये के मकान में फंखे में लटकता हुआ पाया गया था। पुलिस ने मामले की जांच पड़ताल के बाद शव अपने कब्जे में कर वीडियोग्राफी के बाद पोस्टमॉर्टम के लिये गढ़वा भेज दिया था तथा उक्त मकान को सील कर दिया था। पुलिस ने आज शव का पोस्टमॉर्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया। परिजनों के अनुसार रांची में उनका अंतिम संस्कार किया जायेगा।