जिले में 7, 8 व 9 नवंबर को चलेगा गहन टीकाकरण अभियान: उपायुक्त

गढ़वा:  शुक्रवार को उपायुक्त राजेश कुमार पाठक की अध्यक्षता में कोविड-19 वैक्सीनेशन के कार्यों की समीक्षा को लेकर समाहरणालय के सभाकक्ष में बैठक आहूत हुई।

बैठक में उपायुक्त ने वैक्सीनेशन कार्य में तेजी लाने हेतु उपस्थित सभी जिला स्तरीय पदाधिकारियों, प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी व सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को प्रथम चरण में जिले के आठ प्रखंडों (सीएचसी मदर ब्लॉक) क्रमशः गढ़वा, मझिआंव, मेराल, श्री बंशीधर नगर, धुरकी, भवनाथपुर, रंका एवं भंडारिया में दिनांक 7, 8 व 9 नवंबर को गहन टीकाकरण अभियान चलाने का निर्देश दिया। उन्होंने कहा कि इसके लिए एक वैक्सीनेशन प्लान तैयार किया गया है। उक्त कार्य में सभी प्रखंड विकास पदाधिकारी, अंचलाधिकारी, कार्यपालक अभियंता तथा जिला स्तरीय पदाधिकारियों का भी योगदान होगा सभी के संयुक्त प्रयास से अधिक से अधिक वैक्सीनेशन सुनिश्चित किया जाए। उन्होंने बताया कि जिले 8 प्रखंडों में विशेष टीकाकरण अभियान चलाए जाने के अतिरिक्त 7 सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्रों तथा सदर प्रखंड में इनडोर स्टेडियम गढ़वा व अर्बन प्रायमरी हेल्थ सेंटर टंडवा पर भी वैक्सीनेशन का कार्य किया जाएगा। वहीं तीन टीका एक्सप्रेस वैन के जरिए भी दूरदराज के क्षेत्रों में लोगों को वैक्सीन दी जाएगी।

उपायुक्त ने कहा कि वर्तमान में गढ़वा जिले के वैक्सीनेशन की स्थिति संतोषजनक नहीं है ऐसे में इस संदर्भ में विशेष प्रयास की आवश्यकता है तीन मामलों खासकर जेंडर वैक्सीनेशन, सेकेंड डोज वैक्सीनेशन व किए गए वैक्सीनेशन से संबंधित डाटा की एंट्री के संदर्भ में जरूरी कार्रवाई सुनिश्चित की जाए। अब तक जिले में किए गए लगभग 35000 वैक्सीनेशन की डाटा एंट्री नहीं होने के संदर्भ में भी उपायुक्त ने इसकी समीक्षा की तथा संबंधित पदाधिकारियों को जल्द से जल्द लंबित एंट्री पूरी करने तथा आगामी दिनों में इसे अपडेट रखने का सख्त निर्देश दिया। चलाए जाने वाले वैक्सीनेशन अभियान पर चर्चा करते हुए उपायुक्त ने कहा कि इस अभियान के जरिए हमें उक्त आठ प्रखंडों के सभी पंचायत/गांव/टोला तक पहुंचना होगा तथा इसके तहत मतदाता सूची को आधार मानते हुए डोर टू डोर सर्वे कराया जाएं। सर्वे में ऐसे लोग जिन्होंने वैक्सीन नहीं ली है अथवा वैक्सीन की सिर्फ एक ही डोज ली है, उन्हें वैक्सीनेट करवाया जाए साथ ही परिवार के वे सदस्य जो यहां नहीं रहते उनकी सूची तैयार की जाए। प्रखंड विकास पदाधिकारी उक्त कार्य में आंगनबाड़ी सेविका, सहायिका, सहिया, जेएसएलपीएस, कृषक मित्र, मत्स्य मित्र, पीडीएस डीलर व मुखिया समेत अन्य का सहयोग लें। क्षेत्र में टीकाकरण के संदर्भ में विशेष जागरूकता अभियान चलाया जाए और अधिक से अधिक लोगों को टीका देना सुनिश्चित किया जाए। अनुमंडल पदाधिकारी अपने- अपने क्षेत्र में टीकाकरण के वरीय प्रभार में होंगे वहीं टीका एक्सप्रेस वैन के माध्यम से टीकाकरण की जिम्मेदारी जिला परिवहन पदाधिकारी गढ़वा को दी गई है। उपायुक्त ने संबंधित अनुमंडल पदाधिकारी व जिला आपूर्ति पदाधिकारी को प्रत्येक दुकान जिसके कर्मी फुली वैक्सीनेटेड है, के बाहर फुली वैक्सीनेटेड संबंधी स्टीकर चस्पा करने का निर्देश दिया। इसके अलावा उन्होंने कहा कि पेट्रोल पंप व शराब की दुकान पर तथा पैक्स को धान खरीदने की अनुमति हेतु वैक्सीनेशन का सर्टिफिकेट दिखाना अनिवार्य होगा, बिना वैक्सीनेशन सर्टिफिकेट के उपरोक्त सेवाएं नहीं दी जाएंगी। उपायुक्त ने उक्त संदर्भ में संबंधित पदाधिकारियों को आवश्यक कार्रवाई करने की बात कही।
बैठक में उपायुक्त ने प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत लंबित मामलों, 15वें वित्त आयोग व केसीसी के कार्यों की भी समीक्षा की। उन्होंने कहा कि कोविड वैक्सीनेशन हेतु किए जा रहे डोर टू डोर सर्वे के दौरान योग्य लाभुकों से केसीसी के आवेदन भी जनरेट करवाए जाएं तथा उन्हें इससे आच्छादित किया जाए। इसके अलावा उपायुक्त ने प्रखंड विकास पदाधिकारियों को प्रधानमंत्री आवास योजना व 15वें वित्त आयोग के तहत ली गई योजनाओं का भौतिक सत्यापन करने तथा उसमें तेजी लाने का भी निर्देश दिया।

बैठक में उपायुक्त के अलावा उप विकास आयुक्त गढ़वा, अनुमंडल पदाधिकारी गढ़वा, अनुमंडल पदाधिकारी रंका, निदेशक डीआरडीए, सिविल सर्जन, सभी प्रखंडों से आए प्रखंड विकास पदाधिकारी व अंचलाधिकारी, जिला स्तरीय पदाधिकारी व कार्यपालक अभियंता, सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी समेत अन्य उपस्थित थे।