लव जिहाद: यूपी से भगाई गई युवती झारखंड के गोड्डा से बरामद

– आरोपित युवक पुलिस की पकड़ से बाहर
विजय कुमार की रिपोर्ट

मेहरमा : लव जिहाद के मामले में उत्तर प्रदेश के बनारस जिला अंतर्गत सिकंदरपुर पुलिस ने गुरुवार को मेहरमा थाना अंतर्गत अनेक स्थानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की। बनारस जिले से 10 माह पूर्व भगाई गई युवती को यूपी पुलिस सकुशल बरामद कर अपने साथ लेती गई। मेहरमा प्रखंड के बेनीदास भुस्का गांव से युवती को बरामद किया गया। आरोपित युवक को गिरफ्तार करने के लिए मेहरमा थाना के कई ठिकानों पर ताबड़तोड़ छापेमारी की गई।
बताते चलें कि यूपी के बनारस में रह रहा प्रखंड के बेनी दास भुसका गांव का एक मुस्लिम युवक अलग समुदाय की एक युवती को अपने चंगुल में फंसाकर जनवरी माह में गोड्डा जिले के मेहरमा प्रखंड स्थित अपने गांव पहुंच गया था। इस मामले में पीड़िता के परिजनों ने उत्तर प्रदेश के सिकंदरपुर थाने में मामला दर्ज कराया था। जिसके बाद आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए लगातार कई ठिकानों पर छापेमारी कर रही थी। लेकिन कोई हाथ नहीं लगा था। इसी कड़ी में गुरुवार को बनारस के सिकंदरपुर थाने की पुलिस मेहरमा पहुंची और स्थानीय पुलिस की मदद से सैयद शाहनवाज नामक युवक के मामा मोहम्मद इसलाम के घर बेनीदास भुस्का गांव पहुंची और युवती को सकुशल बरामद कर लिया गया। इधर पीड़िता युवती से पूछताछ पर कई अहम खुलासे हुए हैं। जिसमें उन्होंने बताया कि जनवरी माह में आरोपी युवक ने बहला-फुसलाकर लाया था और हमें घर से बाहर नहीं निकलने दिया जा रहा था। साथ ही किसी रिश्तेदार के घर ले जाने के लिए रात के समय ले जाता था और उस समय भी हमें नकाब पहनाया जाता था।
मालूम हो कि आरोपी युवक का पिता बनारस के एक मस्जिद में नमाज पढाने का काम करता था। और उनका पुत्र साथ में रहकर सिकंदरपुर के एक सर्विस सेटर में काम करता था। जहां आरोपी युवक ने युवती को अपने चंगुल में फंसाने का काम किया था। हालांकि आरोपी युवक को गिरफ्तार करने के लिए कई राज्यों के ठिकाने पर छापेमारी की जा रही है। इस संबंध में थाना प्रभारी पल्लवी कुजूर ने बताया कि बनारस पुलिस आई हुई थी। मेहरमा पुलिस की मदद से युवती को बरामद कर लिया गया है। जिसे पूछताछ के बाद बनारस पुलिस अपने साथ लेकर चली गई।