मतदाता सूची विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण को लेकर कई निर्देश, डोर टू डोर विजिट करेंगे बीएलओ

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो:  उपायुक्त सह जिला निर्वाचन पदाधिकारी कुलदीप चौधरी के निर्देश पर समाहरणालय स्थित सभागार में सोमवार को अनुमंडल पदाधिकारी चास सह निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी दिलीप प्रताप सिंह शेखावत की अध्यक्षता में मतदाता सूची का विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 2022 संचालन संबंध में बैठक हुई। मौके पर उपस्थित जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी विवेक सुमन ने बताया कि विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 2022 के तहत नौ अगस्त से 31 अक्टूबर तक पूर्व संशोधन कार्यक्रम चलाया जायेगा। इस कार्यक्रम के तहत नये मतदाताओं को मतदाता सूची में नाम जोड़ने, हटाने, त्रुटियों को संसोधित करने के साथ-साथ ईपिक कार्ड डाउनलोड करने की प्रक्रिया की जायेगी।

जिला उप निर्वाचन पदाधिकारी ने प्रोजेक्टर के माध्यम से बैठक में उपस्थित निर्वाचन निबंधन पदाधिकारी/सहायक निर्वाचन निबंधन पदाधिकारी, कंप्यूटर आपरेटरों, बूथ लेवल आफिसर आदि को विशेष संक्षिप्त पुनरीक्षण कार्यक्रम 2022 के तहत किए जाने वाले कार्य, उसमें बरती जाने वाली सावधानियों के संबंध में विस्तार से बताया। उनके द्वारा पूर्व संशोधन के लिए प्रारंभिक गतिविधियां, समस्याग्रत मतदान केंद्रों/भाग की पहचान, डीएसई/तार्किक त्रुटि हेल्थ के आधार पर रैंकिंग, डीएसई/एकाधिक प्रविष्टियां और तार्किक त्रुटियों को हटाना, ईपीक विसंगतियां और उपचार, बीएलओ द्वारा घर – घर सत्यापन, गलत तरीके से विलोपन से बचने के लिए सुरक्षा उपाय, अनुभागों का सही गठन, मतदान केंद्रों का पुर्नव्यवस्थीकरण, ईआरओ नेट का पर्यवेक्षण, पर्यवेक्षक, सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी, निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी के द्वारा पर्यवेक्षण, भारत निर्वाचन आयोग द्वारा पर्यवेक्षण आदि के संबंध में बताया।

बैठक में अनुमंडल पदाधिकारी चास सह निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी दिलीप प्रताप सिंह शेखावत ने कहा कि हाउस-टू-हाउस सर्वे कर छुटे हुए मतदाताओं का नाम मतदाता सूची में जोड़ना सुनिश्चित करेंगे। सभी सुपरवाइजर को गरुड़ एप्प व वोटर हेल्पलाइन एप्प डाउनलोड करने की बात कही। वैसे मतदाता जिनकी किसी कारणवंश मृत्यु हो गयी है, मतदाता जिनका दो स्थानों पर मतदाता सूची में नाम दर्ज हैं और प्रवासी मतदाताओं को चिह्नित करते हुए उनका नाम मतदाता सूची से विलोपित करना सुनिश्चित करेंगे। लेकिन, इस कार्य में आयोग द्वारा जो सावधानियां बरतने को कहा गया है, उसका विशेष ध्यान रखें। किसी भी वैद्य मतदाता का नाम विलोपित नहीं हो जाए। उन्होंने विलोपित किए जाने वाले मतदाताओं का नाम सार्वजनिक करने से पूर्व जिला निर्वाचन पदाधिकारी द्वारा स्तयापित करना सुनिश्चित करने को कहा।

अनुमंडल पदाधिकारी चास सह निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी ने बीडीओ सह एईआरओ व अन्य को निर्वाचन कार्यों को गंभीरता से लेने को कहा। इसमें किसी भी तरह की कोई चूक अनुशासनिक कार्रवाई का कारण हो सकता है। उन्होंने सप्ताहिक मीटिंग कर सभी बिंदुओं पर समीक्षा करने का निर्देश दिया। ईआरओ नेट पर जो भी आवेदन लंबित है उसे अविलंब निष्पादित करें। आगे से आवेदन प्रपत्रों का निस्तार समय से करें। कहा कि मेरे द्वारा भी पखवारा में एक बैठक किया जाएगा। उन्होंने जेंडर अनुपात को ठीक करने का कहा। बैठक में जो बताया गया है उसका अनुश्रवण कर अनुपालन सुनिश्चित करें। साथ ही, हाउस होल्ड वीजिट करने को कहा।

18 वर्ष की उम्र वालों का नाम मतदाता सूची में जोड़ने का निर्देश

अनुमंडल पदाधिकारी चास सह निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी ने सभी सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी को कहा कि जिनकी उम्र 18 वर्ष हो चुकी है या जो 01.01.2022 को आहर्ता तिथि मानते हुए 18 वर्ष के हो जाएंगे। उन सभी का बीएलओ के साथ समन्वय स्थापित करते हुए विशेष अभियान चलाकर मतदाता सूची में नाम जोड़ना सुनिश्चित करेंगे। साथ ही अधिक से अधिक फार्म छह एकत्रित करते हुए नये मतदाताओं को मतदाता सूची में नाम जोड़े। सहायक निर्वाचक निबंधन पदाधिकारी को अपने-अपने प्रखंड में चुनाव से संबंधित कंट्रोल रुम स्थापित करने का निर्देश दिया।

बैठक में अपर समाहर्ता सह निर्वाचन निबंधन पदाधिकारी सादात अनवर, अनुमंडल पदाधिकारी बेरमो तेनुघाट सह निर्वाचन निबंधन पदाधिकारी अनंत कुमार, जिला भू-अर्जन पदाधिकारी -सह- उप निर्वाचन पदाधिकारी नगरपालिका जेम्स सुरीन सहित सभी प्रखंडो के प्रखंड विकास पदाधिकारी सह सहायक निर्वाचन निबंधन पदाधिकारी, कंप्यूटर ऑपरेटर एवं विभिन्न क्षेत्रों के बीएलओ उपस्थित थे।