एमपीडब्ल्यू स्वास्थ्य कर्मियों को हर हाल में समायोजित किया जायेगा: स्वास्थ्य मंत्री

रांची : झारखंड राज्य अराजपत्रित कर्मचारी महासंघ के महामंत्री सुनील कुमार साह के नेतृत्व में झारखण्ड राज्य एमपीडब्ल्यू( MPW) कर्मचारी संघ का प्रतिनिधि मंडल आज स्वास्थ्य चिकित्सा शिक्षा एवं परिवार कल्याण मंत्री बन्ना गुप्ता के आमंत्रण पर आईपीएच सभागार नामकुम में बैठक सम्पन्न हुई। उक्त बैठक में राज्य में कार्यरत MPW को समायोजित करने पर चर्चा हुईं। समायोजित होने तक राज्य में कार्यरत MPW को एक मुश्त वेतन वृद्धि बढ़ाकर रु0 अब 20, 500रु0 ( बीस हजार पांच सौ रुपए) देने पर सहमति बनी। इस पर मंत्री ने उपस्थित विभागीय अधिकारियों को स्पष्ट आदेश दिए कि 10 दिनों के अंदर संचिका का निष्पादन कर दिया जाय। मंत्री गुप्ता ने उक्त बैठक में यह भी कहे कि आज मैं मुख्यमंत्री हेमंत से मिलकर राज्य में कार्यरत MPW को किस तरह समायोजित किया जाय उस पर चर्चा करेंगे। आप सभी को हर हाल में समायोजित किया जायेगा। मुख्यमंत्री भी सभी विभागों में रिक्त पदों को भरने ,संविदा कर्मी/ दैनिक वेतनभोगी/ को समायोजित करने के लिये कार्य कर रहे हैं। MPW कर्मचारियो को समायोजित के लिए महासंघ के स्तर से मुख्यमंत्री, मुख्य सचिव, झारखंड सरकार एवं प्रधान सचिव, कार्मिक प्रशासनिक सुधार एवं राजभाषा विभाग, झारखंड सरकार द्वारा कई पत्र विभाग को वर्षो पूर्व भेजी गई हैं। मंत्री बन्ना गुप्ता द्वारा संघ/ महासंघ के प्रतिनिधि मंडल को स्पष्ट आश्वासन दिये कि MPW को समायोजित करूँगा ही, आप आश्वास्त रहे। बैठक के पश्चात संघ की आपात बैठक हुई जिसमें निर्णय ली गई कि मंत्री द्वारा स्पष्ट आश्वासन एवं सकरात्मक वार्ता के पश्चात 22 सितंबर को आयोजित मंत्री के आवास के समक्ष सत्याग्रह धरना को स्थगित किया जाता है। संघ को पूरी उम्मीद हैं कि मंत्री द्वारा जो वादा किया गया हैं उसे अविलम्ब पूरा होगा। संघ द्वारा मंत्री बन्ना गुप्ता, झारखंड सरकार को संघ/ महासंघ के प्रतिनिधि मंडल द्वारा स्पष्ट आश्वासन के लिये बहुत बहुत बधाई दी गई,।

जिन पांच सदस्यीय प्रतिनिधि मंडल को आमंत्रित की गई है वो इस प्रकार है। सुनील कुमार साह, महामंत्री, महासंघ, पवन कुमार, प्रदेश अध्यक्ष, MPW कर्मचारी संघ,संजय कुमार, कार्यकारी अध्यक्ष, कार्तिक उरांव, महासचिव, अमरेंद्र,कुमार, उपाध्यक्ष, प्रभाकर पाठक,उपाध्यक्ष, सभी MPW कर्मचारी संघ, राज्यकमिटी ।