नगवां-ढोठवा जर्जर सड़क गड्ढे व तालाब में तब्दील, आक्रोशित ग्रामीणों संग राजद नेत्री ने धान रोप किया विरोध प्रदर्शन

इटखोरी(चतरा)। सोमवार को इटखोरी प्रखंड के हलमता पंचायत में जर्जर गड्ढ़े व तालाब में तब्दील हो चुके नगवां-ढ़ौठवा मुख्य पथ में ग्रामीणों ने धान रोपनी कर किया विरोध प्रदर्शन। ग्रामीण महिला व पुरुष राजद प्रदेश महासचिव प्रियंका वर्मा के नेतृत्व में विधिवत हल चलाकर धान रोपनी कर विरोध प्रदर्शन कर मंत्री, सांसद, विधायक व अधिकारियों का ध्यान उक्त जर्जर सड़क की ओर आक्रषित कराने का प्रयास किया, साथ संकेतिक पद यात्रा भी निकाला। ज्ञात हो कि उक्त पथ वर्षों से जर्जर है, जबकी इस सड़क से प्रखंड के दो पंचायत हलमता व टोनाटांड के अलावे हजारीबाग के दो पंचायतों के लोगों का अवागमण मुख्य रुप से होता है। साथ इटखोरी को हजारीबाग से उक्त पथ जोड़ती है, इसके बाबजूद आज तक किसी जनप्रतिनिधि ने दुरुस्त कराने का प्रयाश नही किया। स्थानिय विधायक किशुन कुमार दास को सड़क की दुर्दशा से कई बार अवगत कराया गया, साथ ही ग्रामीणों द्वारा आवेदन भी दिया गया लेकिन विधायक ने भी कोई दिलचस्पी नहीं दिखाई। वहीं बिते तीन दिनों के बारिश थमने के बाद भी इस सड़क में जगह-जगह गड्ढ़ों में पानी जमा है। रजद नेत्री ने कहा कि उपायुक्त से मिलकर जर्जर सड़क की समस्या से अवगत कराया जाएगा, ताकी जल्द से जल्द जर्जर सड़ की समस्या से क्षेत्र के लोगों को मुक्ती मिल सके। धनरोपी में राजद प्रखंड अध्यक्ष जागेश्वर यादव के अलावे दर्जनों पुरुष व महिलाएं शामिल थीं।