“ग्रामीणों की आस, मनरेगा से विकास” अभियान अंतर्गत एक दिवसीय कार्यशाला का हुआ आयोजन

हरिहरगंज (पलामू)। महात्मा गांधी राष्ट्रीय ग्रामीण रोजगार गारंटी अधिनियम मनरेगा अंतर्गत महिलाओं अनुसूचित जाति /अनुसूचित जनजाति की भागीदारी बढ़ाने, मानव दिवस के सृजन में वृद्धि के साथ गुणवत्तापूर्ण परिसंपत्तियों के निर्माण के उद्देश्य से दिनांक 22 सितंबर से 15 दिसंबर तक ग्रामीणों की आस मनरेगा से विकास अभियान चलाया जाना है।
अभियान के सफल संचालन को लेकर शुक्रवार को प्रखंड कार्यालय सभागार में बीडीओ जयप्रकाश नारायण की अध्यक्षता में एक दिवसीय कार्यशाला का आयोजन किया गया।इस दौरान मनरेगा प्रखण्ड कार्यक्रम पदाधिकारी विष्णु प्रताप मिश्र ने प्रोजेक्टर के माध्यम से उपस्थित अधिकारियों को विस्तार पूर्वक मनरेगा योजना की जानकारी दी।”ग्रामीणों की आस, मनरेगा से विकास” पर कई महत्वपूर्ण बातें कही गई।
वही बीडीओ जयप्रकाश नारायण ने मनरेगा योजना को लाभकारी योजना बताते हुए इसका लाभ सीधे लाभुकों को दिए जाने की दिशा में लगातार कार्य करने की बात कही।उन्होंने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों का समेकित विकास राज्य सरकार की सर्वाेच्च प्राथमिकताओं में से एक है। ग्रामीण क्षेत्रों में समृद्धि लाने के उपायों में महात्मा गांधी नरेगा योजना एक महत्वपूर्ण स्थान रखता है। ऐसे में सभी पदाधिकारी पंचायत प्रतिनिधि “ग्रामीणों की आस, मनरेगा से विकास अभियान को सफल बनाने में अपना विशेष योगदान दें।
कार्यशाला में सांसद प्रतिनिधि अरूण मिश्रा,जीप प्रतिनिधि प्रमोद कुमार रवि,मुखिया सरोज प्रसाद कुशवाहा, रेशमी देवी, पुष्पा देवी, मथुरा रजक, अनिल सिंह, राजेंद्र यादव, सुनिल राम, पंसस अमित सिंह, रामजी पासवान, सहित कनीय अभियंता विपिन राय, दीपक कुमार,संतोष कुमार, पंचायत सेवक अकलेश शर्मा, निरंजन सिंह, इन्द्रदेव यादव, रोजगार सेवक संजय राम, दिलीप कुमार,पंकज चौधरी,विजय चौधरी, विनोद सिंह आदि मौजूद थे ।