हृदय गति रुकने से पारा शिक्षक की मौत

प्रतापपुर(चतरा)। गुरुवार को प्रतापपुर प्रखंड के जोतडीह निवासी सह पारा शिक्षक 50 वर्षीय मनोज पांडेय की मृत्यु हृदय गति रुकने के बाद इलाज के क्रम में रिम्स रांची में हो गई। दिवंगत पारा शिक्षक की अंत्येष्टि स्थानीय दुलकी नदी श्मशान घाट पर किया गया, जहां मुखाग्नि उनके बड़े पुत्र रिशु राज ने दिया। वर्तमान में दिवंगत उत्क्रमित उच्च विद्यालय टंडवा में पारा शिक्षक के पद पर कार्यरत थे। वो अपने पीछे  पत्नी दो बेटे छोड़ गए है। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल  है। परिजनों के अनुसार हार्ट अटैक आने के बाद उन्हें रांची रिम्स इलाज ले जाया गया था, जहां ईलाज के दौरान मौत हो गई। पारा शिक्षक के असमय निधन पर क्षेत्र के पारा शिक्षकों व प्रतिनिधियों आदि ने भी गाड़ी शोक संवेदना व्यक्त की है।