सड़क दुर्घटना में घायल पारा शिक्षक की इलाज के दौरान मौत, संघ के लोगों ने परिजनों को दी 45350 रुपये की सहायता राशि

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। विगत दिनों सरायकेला थाना अंतर्गत उत्क्रमित मध्य विद्यालय हातिया में कार्यरत पारा शिक्षक मथुरा महतो की मौत के बाद सोमवार को एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के बैनर तले पारा शिक्षकों ने मृतक पारा शिक्षक मथुरा के गांव कदमडीहा पहुंच कर मृतक पारा शिक्षक की पत्नी कमला महतो और उनके छोटे-छोटे दो पुत्री और एक पुत्र को सहयोग राशि के रूप में कुल 45350 रुपयेप्रदान की। इस अवसर पर एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा की सरायकेला प्रखंड की ओर से प्रकाश चंद्र महतो के नेतृत्व में कुल 36150, गम्हरिया प्रखंड की ओर से उदय शंकर महतो के नेतृत्व में 4700 तथा सरायकेला प्रखंड के सहायक शिक्षकों की ओर से 4500 की सहयोग राशि प्रदान की गई। इस अवसर पर एकीकृत पारा शिक्षक संघर्ष मोर्चा के कोल्हान प्रमंडल अध्यक्ष संजय मिश्रा, जिला उपाध्यक्ष ब्रजेंद्र सिंहदेव, प्रकाश महतो, शंकर महतो, सनत कुमार दास, शैलेश उरांव, हेमंत कुमार महतो, दीनबंधु नायक, राकेश महतो, समीर सरदार, बदरुद्दीन, मनोज महतो, रयबु नाथ, दशरथ सरदार, संजय महतो, सुनंदा महतो, लतिका महतो, संजू महतो, राजाराम महतो, दिलीप गोराई, बलराम महतो एवं असीम पटनायक मुख्य रूप से उपस्थित रहे। घटना पर दुख प्रकट करते हुए कहा गया कि बरसों सेवा देने के बाद भी दिवंगत मथुरा महतो के मौत के बाद उनके परिवार पर दुख का पहाड़ टूट पड़ा है। इतने दिनों की सेवा का कोई भी लाभ सरकार की ओर से नहीं मिलना सरकार की दोहरी नीति का परिणाम और दुख का विषय है। मौके पर संघीय पदाधिकारियों द्वारा मृतक पारा शिक्षक परिजनों को हर संभव सहायता और सहयोग किए जाने का आश्वासन दिया गया।
बताते चलें कि बीते 16 नवंबर को साइकिल थाना अंतर्गत पांड्रा गांव के समीप स्वर्गीय पारा शिक्षक मथुरा महतो की बाइक स्किड होने के कारण सड़क दुर्घटना होने से उनके सिर में गंभीर चोटें आई थी। जिनके बाद उन्हें तत्काल सदर अस्पताल सरायकेला में इलाज के लिए भर्ती कराया गया था। जहां इलाज के दौरान उनकी मौत हो गई थी।