बधाई के पात्र हैं जनप्रतिनिधि एवं प्रशासन: राजेश

– कहा, तमाम जनप्रतिनिधियों में सांसद निशिकांत दुबे का कार्य सर्वाधिक अव्वल
गोड्डा: भारतीय जनता पार्टी के पूर्व जिला अध्यक्ष राजेश झा ने कहा है कि कोरोना मरीजों के इलाज के लिए गोड्डा सदर अस्पताल में 125 ऑक्सीजन युक्त बेड का निर्माण, महागामा ऊर्जानगर में 25 ऑक्सीजन युक्त बेड के निर्माण के बाद ठाकुरगंगटी में ऑक्सीजन युक्त 20 बेड आइसोलेशन सेंटर, सुंदर पहाड़ी और राजाभीठा में 10 – 10 बेड के कोविड केयर सेंटर का निर्माण कार्य शुरू होने की खबर जिले वासियों के लिए सुकून देने वाली है इसके लिए सरकार, जनप्रतिनिधि और जिला प्रशासन बधाई के पात्र हैं।
श्री झा के अनुसार, राजा के कर्तव्यों का वर्णन करते हुए कौटिल्य ने लिखा है कि प्रजा के सुख में राजा का सुख है, प्रजा के हित में राजा का हित है। राजा के लिए प्रजा के सुख से भिन्न अपना सुख नहीं है। प्रजा के सुख में ही उसका सुख है।
उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में जनता के चुने हुए प्रतिनिधि, क्षेत्र के सांसद और विधायक का अपनी प्रजा अर्थात जनता के प्रति जिम्मेवारी, उनका ख्याल, उनका सम्मान और सुरक्षा के साथ-साथ उनकी समस्याओं के साथ उनके साथ खड़ा हो जाना उनका कर्तव्य है। जिले के सभी जनप्रतिनिधि और जिला प्रशासन बेहतर कार्य कर रहे हैं। परंतु इस आपदा के समय कोरोना काल में सांसद निशिकांत दुबे जिस प्रकार से जनता की सेवा कर रहे हैं, वह अपने आप में उल्लेखनीय है। पहले जीवन रक्षक ऑक्सीजन सिलेंडर की व्यवस्था, कोविड संक्रमित परिवारों के लिए लगातार भोजन की व्यवस्था, 50 हजार परिवारों के लिए विटामिन सी, विटामिन डी, जिंक और पेरासिटामोल सहित इम्यूनिटी बूस्टर कोविड- केयर किट की व्यवस्था, ऑक्सीजन बैंक की व्यवस्था के साथ-साथ ऑक्सीजन कंसंट्रेटर बैंक की स्थापना बहुत ही सराहनीय पहल है। यह सभी सामान घरेलू और व्यक्तिगत उपचार के लिए बहुत उपयोगी साबित होते हैं। फेफड़ों की पुरानी बीमारी या सांस की समस्याओं के लिए घर पर उपयोगी हैं।
भाजपा के पूर्व जिला अध्यक्ष श्री झा ने कहा कि कोराना के पहले लहर में भी सांसद श्री दुबे ने एक लाख परिवारों के लिए इम्यूनिटी बूस्टर आर्सेनिक एल्बम 30 का वितरण एवं राशन पैकेट को जरूरतमंदों के घर-घर तक पहुंचाने का कार्य किया था। अनेक जरूरतमंद घरों में लॉक डाउन के समय में जीवन रक्षक दवाइयां भी रांची, पटना जैसे अन्य शहरों से मंगवा कर पहुंचाने का कार्य किया गया था। स्वास्थ्य हित और जनहित में उठाए गए इन कदमों का सहारा सभी को करनी चाहिए। एम्स का निर्माण उल्लेखनीय है। आज कोरोना काल के समय में एम्स में ओपीडी सेवा का चालू होना जनता के हित में है।
सभी जनप्रतिनिधियों को अपने अपने क्षेत्र में इस आपदा के समय में जनता के हित में कार्य करना चाहिए। आपदा के समय में राजनीति नहीं की जानी चाहिए। आज के समय में मुल्क में सियासत नहीं बल्कि मुल्क के हिफाजत की बात होनी चाहिए।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *