वेंटिलेटर के संचालन को लेकर चिकित्सकों/ तकनीकि कर्मियों को किया गया नामित

गुमला: वैश्विक महामारी कोरोना वायरस के बढ़ते प्रसार के रोकथाम तथा नियंत्रण के मद्देनजर उपायुक्त गुमला शिशिर कुमार सिन्हा के द्वारा गुमला जिलांतर्गत कोरोना संक्रमण से प्रभावित गंभीर मरीजों के उच्चतम ईलाज में सहायक वेंटिलेटर के संचालन हेतु चिकित्सकों/ तकनीकि कर्मियों के प्रशिक्षण की आवश्यकता को दृष्टिपथ करते हुए चिकित्सकों/ तकनीकि कर्मियों को नामित किया गया है।

ज्ञातव्य है कि जिले में 06 वेंटिलेटर उपलब्ध हैं। किंतु वेंटिलेटर के संचालन हेतु तकनीकि सहायक तथा ऐनेस्थेटिक के अभाव में वेंटिलेटर का संचालन बाधित था। इस परिस्थिति को ध्यान में रखते हुए उपायुक्त ने तीन चिकित्सकों सहित तकनीकि कर्मियों के तीन टीम गठित किए हैं। इनका प्रशिक्षण की प्रक्रिया पूर्ण कराते हुए शीघ्र वेंटिलेटर का संचालन प्रारंभ किया जाएगा। ताकि कोरोना संक्रमण से प्रभावित गंभीर मरीजों का समुचित ईलाज किया जा सके।

असैनिक शल्य चिकित्सक सह मुख्य चिकित्सा पदाधिकारी द्वारा निम्नलिखित चिकित्सकों/ तकनीकि कर्मियों को नामित कर उपायुक्त को सूचित किया गया है। नामित चिकित्सक/ तकनीकि कर्मियों को तीन टीमों में विभाजित किया गया है। टीम 01 में डॉ. मनोज सुरीन, स्टाफ नर्स सुमन लकड़ा एवं कनक, टीम 02 में डॉ. सुचाँद मुण्डा, स्टाफ नर्स मरियम तिर्की व मंजु मिंज तथा टीम 03 में डॉ. रोशन खलखो, स्टाफ नर्स अंजना कंचन बारला तथा ओ.टी सहायक पिंकु कुमार शामिल हैं।