कोरोना की थर्ड वेब को रोकने की तैयारी खूंटी जिला प्रशासन

खूंटी:  कोरोना संक्रमण की थर्ड वेब को रोकने के लिए खूंटी जिले में बच्चों के लिए मुक्ति कारवां रथ लॉन्चिंग कार्यक्रम का शुभारंभ 31 मई को किया गया। साथ ही खूंटी झारखंड राज्य का पहला जिला बन गया है जहां बच्चों में संक्रमण के बढ़ते खतरे से निपटने के लिए लगातार तीन माह तक मुक्ति कारवां रथ का कैम्पेन चलाया जाएगा।

जनजातीय मामलों के केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा के नेतृत्व में राष्ट्रीय बाल अधिकार संरक्षण आयोग नई दिल्ली, झारखण्ड राज्य बाल संरक्षण आयोग, एशिया फॉउंडेशन, खूंटी जिला प्रशासन और बाल कल्याण समिति के संयुक्त प्रयास से खूंटी जिले में विशेष कैम्पेन चलाया जाएगा। झारखण्ड राज्य का एक एक बच्चा सुरक्षित रहे इसकी तैयारी राज्य में खूंटी जिले से की जा रही है। कोरोना से प्रभावित अनाथ बच्चों के खान पान से लेकर पढ़ाई तक की पूरी जिम्मेवारी ली जाएगी। कोरोना से मृत माता पिता के अनाथ बच्चों की परवरिश को लेकर भी संयुक्त रूप से कार्य योजना बनायी गयी तथा अनाथ बच्चों के बीच खाद्य सामग्री का वितरण किया गया।

केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कहा कि झारखंड में खूंटी जिला कोरोना की तीसरी लहर में पूरी तैयारी के साथ गांव गांव कैम्पेन चलाकर मजबूती के साथ बच्चों को बचाने के लिए आगे आएगा। जिले के उपायुक्त ने बताया कि बाल संरक्षण आयोग और बाल कल्याण समिति के माध्यम से गांव गांव सर्वे का काम किया जाएगा और बच्चों समेत ग्रामीणों को भी जागरूक किया जाएगा। कोरोना से प्रभावित परिवार और महिलाओ को विशेष रूप से सहायता करते हुए वैक्सीन ड्रॉइव चलाया जाएगा। झारखण्ड में कोरोना की तीसरी लहर से बच्चों को बचाने के लिए प्रत्येक स्तर पर तैयारी की जा रही है। जिले में 216 बच्चे चिन्हित किये गए हैं जिनके पिताजी और माँ नहीं हैं, जबकि 16 बच्चे माता पिता दोनों को कोरोना में खो चुके हैं ऐसे बच्चों को केंद्र और राज्य सरकार की महिला एवम बाल विकास विभाग, एशिया फाउंडेशन, संबंधित निकायों और जिला प्रशासन के संयुक्त प्रयास से सम्मान की जिंदगी दी जायगी। पूरे राज्य में खूंटी जिला बच्चों के लिए चलाए जा रहे कैम्पेन के माध्यम से रोल मॉडल बनेगा। केंद्रीय मंत्री अर्जुन मुंडा ने कोरोना की तीसरी लहर से झारखण्ड में बच्चों को सुरक्षित रखने के लिए व्यापक स्तर पर कार्ययोजना बनने पर खुशी जतायी है।

इस कार्यक्रम में उपायुक्त शशि रंजन, डीडीसी अरुण कुमार सिंह, एसडीओ हेमंत सती, एशिया फाउंडेशन के कार्यक्रम प्रबंधक श्रुति पाटिल, तोरपा विधायक कोचे मुण्डा, बाल कल्याण संघ राँची के विकास दोदराजाका, जिला बाल संरक्षण पदाधिकारी अल्ताफ खान, बाल कल्याण संघ के कार्यक्रम प्रबंधक सुनील गुप्ता समेत कई लोग उपस्थित थे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *