आत्मनिर्भर नारी शक्ति से संवाद कार्यक्रम में प्रधानमंत्री ने किया संवाद

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो:  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को आत्म – निर्भर नारी शक्ति से संवाद कार्यक्रम में हिस्सा लिय़ा। जिले के सभी प्रखंडों में टीवी, स्मार्ट मोबाइल, टैबलेट आदि के माध्यम से झारखंड स्टेट लाइवलीहूड प्रमोशन सोसाइटी (जेएसएलपीएस) की दीदीओं ने माननीय प्रधानमंत्री का संबोधन सुना। इस कार्यक्रम में जिले के लगभग 13 हजार दीदीओं ने हिस्सा लिया। सभी ने प्रखंड कार्यालय, पंचायत भवन, ग्राम संगठन कार्यालय,सीएलएफ कार्यालय, समूह बैठक स्थल में उपस्थित होकर इस कार्यक्रम में हिस्सा लिया।

अपने संबोधन में माननीय प्रधानमंत्री ने कहा कि कोरोना में जिस प्रकार से हमारी बहनों ने स्वयं सहायता समूहों के माध्यम से देशवासियों की सेवा की वो अभूतपूर्व है। मास्क और सेनेटाइज़र बनाना हो, ज़रूरतमंदों तक खाना पहुंचाना हो या जागरूकता का काम हो, हर प्रकार से आपकी सखी समूहों का योगदान अतुलनीय रहा है।

प्रधानमंत्री ने महिला स्वयं सहायता समूहों (एसएचजी) को वित्तीय सहायता जारी की। इस दौरान उन्होंने कहा कि हमारी सरकार ने महिला एसएचजी को अधिक सहायता प्रदान की। हमने महिलाओं के लिए बैंक खाते खोले और एसएचजी को गारंटी के बिना ऋण प्रदान किया। आजादी के 75 वर्ष का ये समय नए लक्ष्य तय करने और नई ऊर्जा के साथ आगे बढ़ने का है। सरकार लगातार वो माहौल, वो स्थितियां बना रही है जहां से आप सभी बहनें हमारे गांवों को समृद्धि और संपन्नता से जोड़ सकती हैं।

भारत में बने खिलौनों को भी सरकार बहुत प्रोत्साहित कर रही है, इसके लिए हर संभव मदद भी दी जा रही है। विशेष रूप से हमारे आदिवासी क्षेत्रों की बहनें तो पारंपरिक रूप से इससे जुड़ी हुई हैं। इसमें भी बहुत संभावनाएं हैं। उन्होंने कहा कि आज देश को सिंगल यूज़ प्लास्टिक से मुक्त करने का अभी अभियान चल रहा है। इसमें सेल्फ हेल्प ग्रुप्स की दोहरी भूमिका है। आपको सिंगल यूज़ प्लास्टिक को लेकर जागरूकता भी बढ़ानी है और इसके विकल्प के लिए भी काम करना है।

जिले में इस कार्यक्रम का आयोजन जेएसएलपीएस के जिला प्रबंधक श्रीमती अनिता केरकेट्टा की देख – रेख में संम्पन हुआ।