उपायुक्त द्वारा विद्युत विभाग एवं लघु सिंचाई अंतर्गत संचालित योजनाओं का किया गया समीक्षा

सरायकेला। उपायुक्त अरवा राजकमल ने अपने कार्यालय कक्ष में विद्युत विभाग एवं लघु सिंचाई अंतर्गत संचालित योजनाओं के समीक्षा हेतु सम्बंधित अधिकारियों सहित बैठक की। विभागवार कार्य प्रगति का समीक्षा करते हुए कार्य प्रगति में बाधक बन रहे समस्याओं को सम्बंधित विभाग के साथ समन्वय स्थापित कर दूर करने के निर्देश दिए।
उपायुक्त ने पत्रकारों से वार्ता करते हुए बताया- विद्युत विभाग एवं लघु सिंचाई संबंधी योजनाओं के समीक्षा क्रम में पाया गया कि पूर्व में लिफ्ट इरीगेशन के तहत लगभग 50 योजनाओं को पूर्ण किया गया था। योजनाओं के संचालन लाभुक समिति द्वारा किया जाना था लेकिन कुछ स्थानों पर लाभुक समिति के दिलचस्पी ना दिखाने के कारण कुछ जगहों पर बिजली का कनेक्शन नहीं लगा तो कई जगह पर बिजली का आपूर्ति नहीं हो सका। जिसपर उपयोग में आने वाले योजनाओं को क्या प्रारम्भ किया जा सकता है इस हेतु निरीक्षण करने के निदेश दिए गए है। उपायुक्त ने कहा पुनः उपयोग में लाने हेतु चिन्हित किए गए योजनाओं में आधा आधा योजनाओं को स्पेशल डिवीजन एवं माइनर इरिगेशन के अभियंताओं का स्थल निरीक्षण करने के निदेश दिया गया है। जिसेमें प्राथमिकता के आधार पर योजनाओं का मरम्मत ई कर पुनः प्रारम्भ किया जायेगा। इस बार माननीय जनप्रतिनिधि एवं स्थानीय लोगों का सहयोग लेते हुए पुनः लागू समिति गठित कर वहां के किसानों को लाभ पहुंचाया जाएगा। उन्होंने कहा इसी प्रकार विद्युत विभाग संबंधित योजनाओं का समीक्षा किया गया इसमें पाया गया कि जिले के 995 आंगनवाड़ी केंद्र में 690 आंगनबाड़ी केंद्र में विद्युत कनेक्शन नहीं है जो कई एक गंभीर बात है। इस संबंध में कार्यपालक अभियंता सरायकेला एवं आदित्यपुर को आंगनबाड़ी केंद्रों की सूची प्राप्त कर एक महीने के अंदर यथासंभव आंगनवाड़ी केंद्रों में विद्युत कनेक्शन बहाल करने के निर्देश दिए गए। उपायुक्त ने कहा ऐसे केंद्र जहां वास्तव में बिजली की समस्या है को छोड़ सभी केंद्र में बिजली का कनेक्शन जल्द से जल्द बहाल कर लिया जाएगा। विद्युत विभाग से संबंधित समस्याओं पर चर्चा करते हुए समस्या समाधान हेतु संबंधित विभाग से समन्वय स्थापित कर कार्य किया जाएगा जिससे विद्युत विभाग से संबंधित समस्याओं को ससमय दूर किया जा सके।
बैठक में अपर उपायुक्त सुबोध कुमार, आईटीडीए निदेशक संदीप कुमार दोराईबुरु, कार्यपालक अभियंता विद्युत विभाग सरायकेला, आदित्यपुर एवं अन्य संबंधित पदाधिकारी उपस्थित रहे।