ऋचा पटेल मामले को लेकर वकीलों का विरोध प्रदर्शन

रांची: ऋचा पटेल के फेसबुक टिप्पणी मामले में न्यायिक दंडाधिकारी मनीष कुमार सिंह के 5 कुरान की प्रति बांटने के अजीबोगरीब आदेश के बाद रांची जिले के वकील आंदोलित। मनीष कुमार सिंह के अदालत का आज बहिष्कार किया गया।  कोर्ट द्वारा ऋचा पर कुरान बांटने की शर्त का रांची जिला बार एसोसिएशन ने विरोध किया है। महासचिव कुंदन प्रकाशन ने कहा कि ऐसी शर्त लगाने से बार और बेंच के बीच दूरियां बढ़ेंगी। सामाजिक वैमनस्यता भी बढ़ेगी। इस मामले में वे बुधवार को प्रधान न्यायायुक्त नवनीत कुमार से मिलेंगे और शर्त हटाने की फरियाद करेंगे। किसी न्यायिक दंडाधिकारी द्वारा ऐसी शर्त लगाना पब्लिसिटी पाने का प्रयास है। ज्ञात हो कि 12 जुलाई की शाम फेसबुक पर आपत्तिजनक पोस्ट शेयर किए जाने के मामले में पिठोरिया पुलिस ने रिचा भारती को उसके घर से गिरफ्तार कर जेल भेज दिया था। रिचा को जेल भेजे जाने के अगले दिन आक्रोशित लोगों ने पिठोरिया थाने का घेराव करते हुए अभिलंब उसकी रिहाई की मांग की थी। लोगों के आक्रोश को देखते हुए ग्रामीण एसपी आशुतोष शेखर और कांके थाना प्रभारी विनय सिंह समेत अन्य कई पुलिस पदाधिकारी मौके पर पहुंचे थे। पुलिस द्वारा जल्द रिहाई का आश्वासन दिए जाने के बाद लोग माने थे।