क्षत-विक्षत अवस्था में मिला सद्दाम अंसारी का शव

खूंटी: खूंटी आजाद रोड निवासी सद्दाम अंसारी का शव मारंगहादा थाना क्षेत्र के जरूईडीह जंगल से क्षत-विक्षत अवस्था में बरामद किया गया है। सद्दाम अंसारी 17 जून को घर से निकला था और वापस नही लौटा। सद्दाम के भाई फिरोज अंसारी ने खूंटी थाना में गुमशुदगी का सन्हा दर्ज करवाया था। काफी खोजबीन के बाद जब कोई सुराग नही मिला तो 25 जून को खूंटी थाना में केस 94/21 धारा 365 भादवि दर्ज किया गया।
अनुसंधान के दौरान दर्जनों से पूछताछ एवम तकनीकी सूत्रों के आधार पर मारंगहादा थाना क्षेत्र के सिरुम के टोला जरूईडीह में आखिरी बार देखे जाने की सूचना मिली। जिसके आधार पर जरूईडीह गांव से ही तीन संदिग्ध को हिरासत में लिया गया जहां पूछताछ में चौकाने वाला खुलासा हुआ।
पुलिसिया पूछताछ में जोहन हंस, सुखराम हंस और मनई हंस तीनो जरूईडीह के निवासी ने पुलिस को बताया कि अवैध अफीम की खरीद बिक्री से संबंधित लेनदेन के कारण उसकी हत्या कर शव को जंगल मे फेंक दिया था। निशानदेही पर पुलिस ने मंगलवार शाम को लापता सद्दाम का शव जंगल से बरामद किया और बुधवार को पोस्टमार्टम के लिए रांची स्थित रिम्स भेज दिया गया। वहीं गिरफ्तार अफीम माफियाओं के घर से एक किलो 440 ग्राम अफीम भी बरामद किया गया। बरामद अफीम के संबंध में मारंगहादा थाना में अलग से 24/21 धारा 18/25 एनडीपीएस एक्ट 1985 के तहत कांड दर्ज किया गया है।
एसपी आशुतोष शेखर ने प्रेस रिलीज जारी कर इसका खुलासा किया है। उन्होंने बताया कि लापता सद्दाम अंसारी की खोज में तीन थानों की पुलिस काम रही थी इसके अलावा तकनीकी सहयोग लिया जा रहा था। गिरफ्तार अफीम माफियाओं ने पुलिस को बताया कि सद्दाम अंसारी के साथ आधा दर्जन लोग अफीम खरीदने गांव में माफियाओं के पास गए थे। पूर्व में भी उन्हीं माफियाओं के साथ अफीम की सौदेबाजी हो चुकी थी लेकिन रुपयों का लेनदेन सही ढंग से नही हुआ जिसके कारण माफियाओं ने सद्दाम और उनके साथ गए लोगों को जान से मारने की योजना बनायी लेकिन उससे पूर्व ही उनके साथ गए लोग वहां से माफियाओं को चकमा देकर भाग निकले जबकि सद्दाम अंसारी की हत्या कर दी गई। सद्दाम के साथ गए लोगों का नाम एसपी ने नही बताया। उन्होंने कहा कि अनुसंधान जारी है जल्द ही इस हत्याकांड में शामिल और सद्दाम के साथ गए लोगों को गिरफ्तार कर लिया जाएगा।
छापेमारी अभियान में डीएसपी अमित कुमार,खूंटी थानेदार जयदीप टोप्पो,पुअनि विश्वजीत ठाकुर,मारंगहादा थाना से पुअनि राकेश कुमार मंडल, प्रदीप सवईया,सअनि राजीव रंजन कुमार समेत खूंटी/मारंगहादा/सायको थाना और SAP के सशत्र बल के जवान शामिल थे।