बचाए जल, नहीं तो बूंद – बूंद को तरसेंगे कल : मुकुन्द साव

चौपारण(हजारीबाग): आज जल संकट गहराता जा रहा है,भूगर्भ विभाग के अनुसार प्रत्येक साल लगभग एक मीटर पानी पाताल की ओर जा रहा है, सर्वेक्षण के अनुसार 1980 से अब तक भूगर्भ जल 07 से 09 मीटर नीचे चला गया है,आने वाले दिनों में लोग बूंद बूंद पानी के लिए तरस जाएंगे, उक्त बाते चौपारण के सांसद प्रतिनिधि मुकुंद साव ने विश्व भूगर्भ जल दिवस के अवसर पर पत्रकारों को बताय. उन्होंने कहा कि वर्षा के बाद पानी सबसे ऊपर होता है ,वर्षा शुरू होने से पहले नीचे चला जाता है,सामान्य वारिश पर प्रयाप्त पानी मिल जाता है,लेकिन अन्य दिनों में पानी पर्याप्त नहीं मिल पाता है क्योंकि पानी बहुत पाताल चला गया है, इसको बचाने की जरूरत है,पानी का संरक्षण और पानी के संचयन बहुत जरूरी है,पानी का खपत कम करे,पानी बचाएं यह अपील पूरे चौपारण वासियों से सांसद प्रतिनिधि ने किया है,सांसद प्रतिनिधि ने कहा है कि विचार का विषय है कि कल हर जगह पानी मुफ्त में मिलता था,,आज बोतल में मिल रहा है, आनेवाला कल में पानी शीशी में मिलेगा,पानी बिना लोग तरस जाएंगे,इसलिए पानी का खपत कम करे,पानी बचाएं,मुकुंद साव ने विश्व भूगर्भ जल दिवस के अवसर पर पानी कम खपत करने,पानी बचाने का संकल्प लेने का निवेदन करते हुवे इस अवसर पर बधाई एवं शुभकामनाएं दी है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *