उपायुक्त की अध्यक्षता में सामाजिक दायित्व (सीएसआर) की बैठक

सरायकेला से भाग्य सागर सिंह की रिपोर्ट

सरायकेला। उपायुक्त अरवा राजकमल की अध्यक्षता में सोमवार को जिला स्तरीय सामाजिक दायित्व (सीएसआर) की बैठक हुई। सर्वप्रथम उप विकास आयुक्त एवं अपर उपायुक्त द्वारा मंचाशीन अतिथिओ का संयुक्त रूप से पुष्पगुच्छ दे कर सम्मानित किया गया। बैठक में अमलगम, आधुनिक स्टील, आरएसबी इंडस्ट्रीज, टाटा लॉन्ग प्रोडक्ट, टाटा ग्रो शॉप सहित विभिन्न उद्योगों के संचालक व जनप्रतिनिधि तथा जिले के सभी वरीय पदाधिकारियों की उपस्थिति रही। उपायुक्त द्वारा बताया गया कि सीएसआर के तहत सभी कम्पनिया जिनका एसेट्स 500 करोड़ से ज्यादा है या जिनका टर्नओवर 1000 करोड़ से ज्यादा है या नेट प्रॉफिट 5 करोड़ से ज्यादा है उन्हें अपने अपने प्रॉफिट का न्यूनतम 2% कम से कम खर्च किया जाए एवं 3 वित्तीय वर्ष का ब्यौरा दिया जाय। जो छोटी कम्पनिया हैं वे भी अपने क्षेत्र में किये जाने वाले कार्यो का ब्यौरा अवश्य उपलब्ध कराएं। उपायुक्त द्वारा अपील की गई कि जिले के सीएसआर कोष को मजबूत करने में सभी अपनी अपनी भागीदारी सुनिश्चित करें। इस राशि का बेहतर इस्तेमाल जिले के विकास कार्यों व लोक कल्याणकारी कार्यो में किया जाएगा।
उपायुक्त ने बताया कि कुल 35 कम्पनियां सीएसआर के अंतर्गत आती है। सभी कम्पनियों को एक सप्ताह के अंदर लाभ – हानि का ब्यौरा जिला कार्यालय मे जमा करने का निदेश दिया गया। वर्ष 2021-22 के अंतर्गत कम्पनियों द्वारा खर्च का ब्यौरा भी साझा करने को कहा गया। उपायुक्त ने सभी उपस्थित उद्योगपतियों के समस्याओं को भी सुना एवं जल्द से जल्द उन्हें निष्पदित करने का आश्वासन दिया। उन्होंने कहा कि न्यायिक मुद्दों से सम्बंधित किसी भी प्रकार की के मदद के लिए जिला प्रशासन सदैव तत्पर है। बैठक में उप विकास आयुक्त प्रवीण कुमार गगराई, अपर उपायुक्त सुबोध कुमार, उप निर्वाचन पदाधिकारी प्रियंका सिंह, जिला जनसम्पर्क पदाधिकारी सुनील कुमार सिंह आयडा के एमडी बी. एस.एम ठाकुर, जीएम डीआईसी, एशिया ग्रुप के अध्यक्ष समेत अन्य की उवस्थिति रही।