शिवपुर में शोभा की वस्तु बनी सोलर आधारित जलमीनार

बरही से बिपिन बिहारी पाण्डेय

बरही (हजारीबाग) : बरही प्रखंड के करियातपुर पंचायत अंतर्गत शिवपुर गर्लाही गांव में लाखों की लागत से सौर ऊर्जा से संचालित मिनी जलमीनार का निर्माण 14वें वित्त आयोग योजना के अंतर्गत मुखिया के द्वारा करवाया गया था। लोगों को पानी की समस्या से निजात दिलाने के लिए भले ही यह सोलर जल मीनार लगाया गया। किंतु विगत एक माह से यह सिर्फ शोभा की वस्तु बन गई है। इस कारण लोगों को पेयजल के लिए सुबह से ही भटकना पड़ रहा है। जल मीनार को दुरुस्त करने के लिए ग्रामीण स्थानीय मुखिया पंचायत सेवक आदि से कई बार गुहार लगाकर थक चुके हैं। किंतु अब तक इसकी सुध तक नहीं ली गई। जबकि इस जल मीनार से 50 परिवार के लोग सीधे तौर पर लाभान्वित होते हैं। ग्रामीणों का कहना है कि इस जल मीनार का पानी काफी मीठा है। जिसके कारण इस जल मीनार से पानी शिवपुर व गर्लाही गांव के ही नहीं बल्कि आसपास के ग्रामीण भी इस मीठे पानी को लेने प्रतिदिन पहुंचते थे। इनके अलावा बगल मैं स्थित विद्यालय के बच्चे भी इस पानी का उपयोग करते थे। कांग्रेस नेता सह स्थानीय ग्रामीण कुणाल कतरियार ने बताया कि जल मीनार खराब हो जाने के कारण लोगों को पानी के लिए भारी कठिनाइयों का सामना करना पड़ रहा है। इस कारण ग्रामीणों में काफी आक्रोश है। जन मीनार खराब होने के कारण खास तौर पर 50 परिवार के लोगों को पानी की भारी किल्लत का सामना करना पड़ रहा है। इससे यहां से गुजरने वाले राहगीरों को भी काफी लाभ मिलता था। लोग यहां रुक कर मीठा पानी से अपनी प्यास बुझाते थे। उक्त खराब पड़ा सोलर जल मीनार को दुरुस्त करने की मांग मोहन प्रजापति, नारायण प्रजापति, सरजू प्रजापति, राजेन्द्र यादव, गिरधारी प्रजापति, रमेश प्रजापति, लक्ष्मण प्रजापति, टहल प्रजापति, कारू प्रजापति, गणेश प्रजापति आदि ने किया है।