चिन्मय विद्यालय मे ग्रीष्मकालीन नृत्य संगीत प्रशिक्षण शिविर का आयोजन

बोकारो से जय सिन्हा
बोकारो:चिन्मय विद्यालय ए स्कूल विथ डिफरेंस अपने नाम व ख्याति के अनुरूप ही शिक्षा के जगत में कार्यरत रहता है। 17 मई से 28 मई तक दस दिवसीय ऑनलाइन नृत्य एवम संगीत ग्रीष्मकालीन प्रशिक्षण शिविर का शुभारंभ किया गया।
विद्यालय सचिव महेश त्रिपाठी, प्राचार्य अशोक कुमार झा एवम पर्यवेक्षक कविता सिन्हा ने वर्चुअल माध्यम से शिविर का उदघाटन किया गया। शिविर का शुभारंभ परम् पूज्य गुरुदेव स्वामी चिन्मयानंद जी तसवीर पर पुष्प अर्पित कर किया गया। तत्पश्चात गणेश वंदना, विद्यालय गीत तथा गुरुदेव वंदना गाकर शिविर का शुभारंभ किया गया। अपने संबोधन में विद्यालय सचिव महेश त्रिपाठी एवम प्राचार्य अशोक कुमार झा ने कहा कि कोरोना की महामारी में हमे सभी सावधानियों का पालन करते हुए छोटे छोटे बच्चों में पुस्तकों की ज्ञान के साथ साथ उन्हें बहुमुखी प्रतिभा के निखारने के लिए शिविर का आयोजन करना चाहिए। इससे बच्चों में अपने अंदर छिपी प्रतिभा को पहचान कर उसे निखारने के अवसर मिलता है। शिविर को नृत्य एवम संगीत अलग अलग समूह में बांटा गया है। कक्षा प्री नर्सरी से द्वितीय तक के 250 से अधिक बच्चों ने शिविर में भाग लिया। नृत्य शिक्षिका रेणु सह ने शिविर का संचालन करते हुए बच्चों को वक्रतुण्ड महाकाय, गुरु स्तुति के पांच कदम सिखाये, नृत्य का महत्व, नृत्य में प्रयोग मुद्राओं के महत्व को समझाते हुए पांच मुद्राएं क्रमशः पताका, त्रिपताका, अर्धपताका,सुचिमुखः,चंद्रकला आदि मुद्रायें सिखाई एवम उसका अभ्यास भी करवाया। साथ ही देशभक्ति गाने एवम झारखंड के लोकगीतों पर आधारित गानों पर भी नृत्य को सिखाया।
साथ ही कक्षा तृतीय से छठवी तक के छात्र छात्राओं के लिए पांच दिवसीय शिविर में संगीत, नृत्य, शिल्प कला, एवम योग का प्रशिक्षण दिया जाएगा एवम कक्षा सातवी से दशवीं तक के सभी बच्चों को गिटार का प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इस कार्यक्रम को सफल बनाने में पर्यवेक्षक कविता सिन्हा, पर्यवेक्षक गोपाल चंद मुंशी, पर्यवेक्षक रश्मि सिंह, सहपर्यवेक्षक रश्मि शुक्ला, जय किशन राठौड़, सोमा तिवारी, सरिता ,अंजू, एवम समस्त प्राथमिक शिक्षिकाओं ने महत्वपूर्ण भूमिका निभाई।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *