बागवानी किए गए खेतों को चारों ओर से घेराबंदी कर, पौधों के किनारे सब्जी की खेती करें: उप विकास आयुक्त

उप विकास आयुक्त ने पालकोट प्रखण्ड के विभिन्न पंचायतों में बिरसा हरित ग्राम योजना, कूप एवं दीदी बाड़ी योजना का निरीक्षण किया

गुमलाः उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अम्बष्ठ ने गुमला जिलांतर्गत पालकोट प्रखण्ड में बिरसा हरित ग्राम योजना के तहत् चल रही आम बागवानी, कूप निर्माण तथा दीदी बाड़ी योजना अंतर्गत संचालित कार्याें का निरीक्षण कर जानकारी प्राप्त की।

निरीक्षण के दौरान उप विकास आयुक्त ने बंग्रु पंचायत निवासी बालमती देवी के दीदी बाड़ी, लाभुक मंगरा उराँव के कूप निर्माण की वस्तु स्थिति, जलमीनार एवं चबूतरा निर्माण का अवलोकन किया। वहीं उन्होंने नाथपुर पंचायत में लाभुक बिरासमुनि के आम बागवानी का भी निरीक्षण कर बागवानी किए गए खेतों को चारों ओर से घेराबंदी करने तथा पौधों के किनारे सब्जी की खेती करने हेतु प्रेरित किया। जिससे पौधा सुरक्षित रहे साथ ही सब्जी का भी उत्पादन किया जा सके।

ज्ञातव्य है कि 15 से 30 जुलाई 2021 तक गुमला जिलांतर्गत संचालित विभिन्न विकास योजनाओं का स्थल भ्रमण के माध्यम से सम्यक अनुश्रवण एवं ग्रामीणों के समस्याओं से सरोकार होने हेतु तथा उन्हें सुगमतापूर्वक सरकार द्वारा संचालित कल्याणकारी योजनाओं का लाभ उपलब्ध कराने के निमित तिथिवार कार्यक्रम निर्धारित है।

उक्त भ्रमण कार्यक्रम में निर्धारित ग्रामों में विभिन्न विभागों द्वारा क्रियान्वित योजनाओं का स्थल भ्रमण कर ग्रामीणों की समस्याओं से अवगत होते हुए उनके त्वरित निष्पादन की कार्रवाई की जाएगी।

क्षेत्र भ्रमण के पश्चात् उप विकास आयुक्त ने प्रखण्ड कार्यालय पालकोट के सभागार में बैठक कर प्रखण्ड में संचालित विभिन्न योजनाओं की समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया। बैठक के क्रम में उप विकास आयुक्त ने मनरेगा अंतर्गत क्रियान्वित योजनाओं यथा बिरसा हरित ग्राम योजना, दीदी बाड़ी योजना, नीलाम्बर-पीताम्बर जल समृद्धि योजना, पशु शेड, खेल मैदान निर्माण कार्य की योजनावार समीक्षा की। साथ ही आवास योजनांतर्गत प्रधानमंत्री आवास योजना (ग्रामीण), बाबा साहेब भीमराव अम्बेडकर आवास योजना, बिरसा आवास योजना का निर्मित/निर्माणाधीन आवासों का पंचायतवार समीक्षा किया। उप विकास आयुक्त ने आवास योजना के निर्धारित लक्ष्य को ससमय पूर्ण कराकर गृह प्रवेश कराने का निर्देश प्रखण्ड विकास पदाधिकारी एवं संबंधित पदाधिकारियों/कर्मियों को दिया। उप विकास आयुक्त ने 15वीं वित्त आयोग अंतर्गत क्रियान्वित की जाने वाली योजनाओं को भी गंभीरता के साथ लेते हुए ससमय पूरा कराने को कहा।

इसके अलावे उप विकास आयुक्त ने बैठक में सामाजिक सुरक्षा अंतर्गत संचालित विभिन्न पेंशन योजना, कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजना यथा छात्रवृति/साईकिल वितरण/बिरसा आवास/कल्याण विभाग द्वारा संचालित विद्यालय/अस्पताल, समाज कल्याण विभाग द्वारा संचालित योजना यथा आँगनबाड़ी केन्द्र का संचालन/कुपोषित बच्चों का चिन्हितीकरण एवं उनका उपचार/पोषाहार वितरण/सुकन्या योजना/प्रधानमंत्री मातृ वन्दना योजना/दिव्यांग के लिए ट्राईसाईकिल/व्हीलचेयर/श्रवण यंत्र आदि कार्याें की भी समीक्षा की। उन्होंने स्वास्थ्य विभाग द्वारा संचालित योजनाओं यथा गोल्डन कार्ड/टीकाकरण कार्यक्रम/स्वास्थ्य केन्द्रों का संचालन/डाॅक्टर एवं नर्स आदि स्वास्थ्य कर्मी की उपस्थिति से संबंधित जानकारी प्राप्त कर लोगों को उपयुक्त सुविधा मुहैया कराने का निर्देश दिया। उप विकास आयुक्त ने शिक्षा विभाग द्वारा संचालित योजनाओं एवं विद्यालय के संचालन की भी जानकारी प्राप्त की। उन्होंने पेयजल एवं स्वच्छता विभाग द्वारा संचालित योजनाओं यथा शौचालय/पेयजल आपूर्ति, आपूर्ति विभाग द्वारा संचालित योजना राशन वितरण/राशन कार्ड, विद्युत आपूर्ति के अद्यतन स्थिति, सखी मंडल के क्रियाकलापों की समीक्षा, मुख्यमंत्री प्रोत्साहन योजना, प्रधानमंत्री किसान सम्मान निधि योजना के क्रियान्वयन की समीक्षा, किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड से आच्छादित करने हेतु विशेष अभियान के संचालन की समीक्षा सहित कोविड टीकाकरण एवं कोविड प्रोटोकाॅल इत्यादि योजना की पंचायतवार समीक्षा कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया।

बैठक के क्रम में उप विकास आयुक्त संजय बिहारी अम्बष्ठ, प्रखण्ड विकास पदाधिकारी पालकोट विभूति मंडल सहित प्रखण्ड/अंचल के पदाधिकारी एवं कर्मी उपस्थित थे।